बिहार के रियल लाइफ “दबंग” मनु महराज का क्रेज युवाओं के बीच किसी फिल्मी हीरो से कम नहीं है

खबरें बिहार की

देश की बागडोर असल मायने में अफसरों के हाथ में होती है। यदि नौकरशाही दुरुस्त हो तो कानून-व्यवस्था चाकचौबंद रहती है। जिस तरह से भ्रष्टाचार का दीमक नौकरशाही को खोखला किए जा रहा है, लोगों का उससे विश्वास उठता जा रहा है। लेकिन कुछ ऐसे भी IAS और IPS अफसर हैं, जो अपनी साख बचाए हुए हैं। उनके कारनामे आज मिशाल के तौर पर पेश किए जा रहे हैं।

बिहार की राजधानी पटना के एसएसपी मनु महाराज अपनी बेबाक स्टाइल की वजह से हमेशा सुर्खियों में रहते हैं। कभी दबंग तो कभी सिंघम के नाम से चर्चा में रहने वाले मनु महाराज ने अपने ही महकमे को अलर्ट रखने के लिए ऐसा कदम उठाया, जिसे देखकर पुलिसवाले भी चकित रह गए। बेहद सुरक्षित कोतवाली थाना से देर रात पुलिस की जीप चोरी हो गई। दिलचस्प बात यह है कि चोरी किसी चोर ने नहीं बल्कि एसएसपी मनु महाराज ने की थी। उन्होंने पुलिस की सक्रियता और कार्रवाई की गंभीरता की जांच के लिए जीप गायब की थी।

बिहार की राजधानी पटना के एसएसपी मनु महाराज के नाम से अपराधी खौफ खाते हैं। अपनी सिंघम स्टाइल और मूंछों की वजह से चर्चा में रहने वाले मनु महाराज किसी भी ऑपरेशन में खुद टीम को लीड करते हैं और एके-47 लेकर फील्ड में पहुंच जाते हैं।

किसी फिल्मी हीरो की तरह उनकी स्टाइलिस्ट मूछें, सुडौल शरीर और दबंग अंदाज देख अपराधियों के पसीने छूट जाते हैं।

मनु महाराज ने इंजीनियरिंग के बाद पास किया था यूपीएससी एग्जाम
– 2006 बैच के आईपीएस अधिकारी मनु महाराज मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के हैं।
– इनकी अपनी शुरुआती पढ़ाई शिमला से हुई है। इसके बाद इन्होंने आईआईटी रुड़की से बीटेक किया।
– इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद यूपीएससी की तैयारी शुरू की और इसी दौरान JNU में एन्वायरन्मेंटल साइंस में PG भी किया।
– 2006 में यूपीएससी क्लियर कर IAS रैंक मिलने के बावजूद IPS को चुना। दरअसल, मनु महाराज एक IPS अफसर बनाना चाहते थे। इन्हें बिहार कैडर मिला।


– मनु महाराज किसी बड़े ऑपरेशन को खुद ही लीड करते हैं और एके-47 लेकर मौके पर पहुंच जाते हैं।
– बता दें कि पटना के दियारा इलाके में एक ऑपरेशन के दौरान उन्होंने खुद ही कमान संभाली थी।
– दरभंगा में भी एक अपराधी को पकड़ने के लिए मनु घोड़े पर सवार होकर मैदान में उतरे थे।
– मनु महाराज पटना के अलावा गया व दरभंगा में भी पोस्टेड रहे हैं।
– गया में पोस्टिंग के दौरान नक्सली इलाकों में भी पहुंच जाते थे। वहीं, दरभंगा में कई बड़े ऑपरेशन को भी अंजाम दिया।

– मनु महाराज पहले पटना में सिटी एसपी थे। तब उनके मूंछ का स्टाइल साधारण था।
– उन्होंने अजय देवगन की फिल्म सिंघम देखने के बाद अपना लुक बदला और मूंछ रखना शुरू कर दिया।
– इस अफसर को पटना के लोग सिंघम और दबंग भी पुकारते हैं।

– एक बार मनु महराज चेहरे पर गमछा लगाए और चप्पल पहने टूटी साइकिल से एक पुलिस जिप्सी के पास पहुंचे।
– उन्होंने जीप में बैठे पुलिसवालों से कहा, साहब, मैं मजदूरी करके लौट रहा था, तभी रास्ते में बदमाशों ने मुझे लूट लिया है। कृपया मेरी मदद कीजिए।
– पुलिसवाले उनकी बात अनसुनी करने लगे और उन्हें वहां से भगाने लगा।
– मनु महाराज के रिक्वेस्ट के बाद झल्लाए एक पुलिसवाले ने उन्हें थप्पड़ मारने की कोशिश की, तभी उन्होंने चेहरे से गमछा हटा दिया।
– इसके बाद उस पुलिस वाले के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया।


– मनु अक्सर पटना की सड़कों पर अपने गनर के साथ चेहरा ढंककर बाइक से शहर की सुरक्षा देखने निकल पड़ते हैं।
– मनु महाराज एक बार अपनी बाइक से शहर में घूम रहे थे और शहर के बीचोंबीच सबसे वीवीआईपी थाना कोतवाली पहुंच गए।
– वहां उन्होंने देखा कि ड्यूटी पर तैनात पुलिसवाला और ड्राइवर आराम से सो रहे थे।
– मनु महाराज ने थाने से पुलिस की जीप चोरी कर ली। पूरी रात उसी जीप से पटना में घूमते रहे पर पुलिस को भनक नहीं लगी।
– अगले दिन ही मनु ने ड्यूटी पर तैनात पुलिस वालों को लापरवाही के आरोप में सस्पेंड कर दिया।

किसी भी विषम परिस्थिति में हमेशा मुस्कराते रहने वाले मनु ने कभी भी किसी अपराधी तक को बुरे शब्द नहीं बोले हैं। उनकी स्टाइल के पुलिस महकमें और आम लोगों के साथ ही राजनेता भी मुरीद हैं। यही वजह है कि बिहार के CM नीतीश कुमार के वह चहेते अफसरों में से एक हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.