बार-बार आपबीती पूछने पर रोने लगी गैंगरेप पीड़िता, 6 राजद नेताओं पर पहचान उजागर करने का केस दर्ज

खबरें बिहार की

पटना: बिहार के गया में सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने और उसे आपबीती बताने को मजबूर करने पर छह राजद नेताओं पर केस दर्ज हुआ है। सभी नेता गैंगरेप का शिकार हुई पीड़िता मां-बेटी से शुक्रवार को मिलने पहुंचे थे। इस दौरान ये लोग पीड़िता से बार-बार आपबीती बताने को कह रहे थे। कार्यकर्ताओं की भीड़ नीतीश सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रही थी। इस बीच लगातार हो रहे सवालों से पीड़िता रोने लगी। अफरातफरी में उसके चेहरे से दुपट्टा भी हट गया। उसने कहा, ”मैं बार-बार एक ही बात सबको कैसे बताऊं? मुझे कुछ नहीं कहना? आप लोग समझते नहीं है? मैं घर जाना चाहती हूं। एक ही बात कितनी बार बोलूं?’

घटना 13 जून की रात को हुई। गया के सोनडीहा गांव में एक डॉक्टर, उनकी पत्नी और बेटी को 12 हथियारबंद लोगों ने बंधक बना लिया। आरोपियों ने डॉक्टर की बाइक लूट ली। डॉक्टर को पेड़ से बांधकर उनके सामने ही 45 वर्षीय पत्नी और 13 साल की बेटी से दुष्कर्म किया।

पीड़िता ने कहा- वहशियों को फांसी पर लटकते देखना चाहती हूं 

पीड़ित लड़की ने दुष्कर्मियों को फांसी दिलाने की मांग की है। उसका कहना है, ”फांसी होगी, तभी मेरा इंसाफ होगा। जो कुछ मेरे साथ हुआ, वह किसी और के साथ नहीं हो, इसके लिए वहशियों को फांसी जरूरी है। मेरी एक ही मांग है, यह सजा जल्द दी जाए।” पीड़िता कहती है कि हमारे परिवार के पास जो कुछ भी था वो सब हमने उन लोगों को दे दिया, इसके बाद भी वहशियों ने दरिंदगी की।

Source: dainik bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published.