बेटी को साथ न रहने देने पर जेल में भी CM की धमकी दे रहा राम-रहीम

राष्ट्रीय खबरें

सीबीआई कोर्ट में 25 अगस्त को दुष्कर्मी साबित होने के बाद जेल में भी गुरमीत राम रहीम सिंह के तेवर नहीं बदले। पुलिस उसकी दत्तक बेटी हनीप्रीत को हेलिकॉप्टर में उसके साथ रोहतक जेल ले गई थी। क्योंकि, पंचकूला सीबीआई कोर्ट में ही राम रहीम ने एप्लीकेशन दायर कर बीमार होने की बात कही थी।

हनीप्रीत ने भी वकील के जरिए कहा-वह जेल में डेरा मुखी के साथ रहना चाहती है। वह एक्यूप्रेशर एक्सपर्ट है। उनकी कमर में दर्द है। माइग्रेन भी रहता है। जज ने कहा कि कोर्ट इस पर आदेश नहीं दे सकता। सरकार या जेल प्रशासन तय करे कि कोई साथ रहना चाहता है तो साथ रहने दिया जाए या नहीं।

पुलिस हनीप्रीत को राम रहीम के साथ ले गई। शाम 4.55 बजे दोनों रोहतक की सुनारिया जेल के पास पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज के हेलिपैड पर उतरे। यहां से कॉलेज की मैस के साथ बने रेस्ट हाउस ले जाया गया। इसे सरकार ने अस्थायी जेल बनाया था। जेल मैनुअल के हिसाब से यहां महिला नहीं रखी जा सकती थी। जेल प्रशासन ने हनीप्रीत को वीआईपी रिटायरिंग रूम में राम रहीम के साथ पौने दो घंटे तक रहने दिया।

जब जेल प्रशासन राम रहीम को रेस्ट हाउस से जेल ले जाने लगे तो उसने अफसरों से कहा- कमर दर्द माइग्रेन के कारण कोर्ट ने हनीप्रीत को साथ रखने की मौखिक इजाजत दी है। वह रात को साथ रहेगी। अफसरों ने बात नहीं मानी तो हंगामा किया। हनीप्रीत के मोबाइल से सीएम केंद्र के मंत्री को फोन लगाने अफसरों को सस्पेंड कराने की धमकी दी। मैस रूम से हनीप्रीत ने चंडीगढ़ दिल्ली के लिए फोन लगाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.