लगता है टेलीविजन पर दोबारा रामायण दिखाना सरकार के लिये कारगर हो रहा है। दरअसल दिल्ली में एक बेटा रामायण देखकर इतना आदर्शवादी हो गया कि उनसे प्रण कर लिया है कि वो अपने आसपास होने वाली हर गलत और अपराध का विरोध करेगा। न्याय करेगा। और उसके इस आदर्श का सबसे पहला शिकार उसके पिता ही हो गये।
मामला नई दिल्ली के वसंत कुंज इलाके का है। 30 वर्षीय बेटे ने स्थानीय पुलिस थाने में शिकायत की कि उसके पिता लॉकडाउन के बावजूद बेवजह घर से निकल जाते हैं और इधर-उधर घूमते रहते हैं। पुलिस ने बेटे से शिकायत मिलने के बाद मामले की पड़ताल की। मामले की सत्यता जांचने के बाद थाने ने उस युवक के पिता पर IPC की विभिन्न धाराओं के तहत FIR दर्ज कर ली है।

यही नहीं दिल्ली के द्वारका जिले में सेल्फ क्वारैंटाइन तोड़ने के मामले में 21 लोगों पर भारतीय दंड विधान की विभिन्न धाराओं और महामारी एक्ट के सेक्शन 3 के अंदर मामला दर्ज किया गया है।


इधर कोरोनावायरस के आज 53 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से राजस्थान में 21, आंध्रप्रदेश में 12, आगरा में 9, गुजरात में 7, दिल्ली में 2 और महाराष्ट्र-गोवा में 1-1 मरीज मिला है। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 2 हजार 602 हो गई है। 191 लोग ठीक हुए हैं। इससे पहले गुरुवार को देशभर में 486 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। यह एक दिन में संक्रमण का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे एक दिन पहले बुधवार को देश में इस सक्रमण के 424 मामले सामने आए थे। ये आंकड़े covid19india.org वेबसाइट के मुताबिक हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक, देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2 हजार 301 है। इनमें से 2 हजार 88 का इलाज चल रहा है। 156 ठीक हो चुके हैं।
प्रधानमंत्री की अपील- लॉकडाउन के बीच जनता का हौसला बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वीडियो संदेश के जरिए जनता से एक बार फिर अपील की। उन्होंने कहा कि 5 अप्रैल को रात 9 बजे घर की सभी लाइटें बंद करके, घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर 9 मिनट के लिए मोमबत्ती, दीया, टॉर्च या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाएं। प्रकाश की महाशक्ति का एहसास होगा तो लगेगा कि कोई अकेला नहीं है।

Sources:-Live News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here