तो क्या मॉल नहीं जाती तेजप्रताप की होने वाली दुल्हनिया? कभी राबड़ी ने कहा था नहीं चाहिए मॉल जाने वाली बहु

कही-सुनी

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्रियों के बड़े बेटे तेज प्रताप की शादी की खबरें आज-कल चारों तरफ गूँज रहीं हैं। उनकी होने वाली MBA पत्नी ऐश्वर्या भी मीडिया में छाई हुई हैं। ऐश्वर्या राय बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा प्रसाद राय की पौत्री और परसा विधानसभा क्षेत्र से राजद के विधायक चंद्रिका राय की बड़ी बेटी हैं. एश्वर्या राय ने अपनी स्कूल की पढ़ाई पटना से की है. और उच्च शिक्षा दिल्ली से पूरा किया है. ऐश्वर्या की छोटी बहन का नाम आयुषी राय है. आयुषी इंजीनियर है.

तेजप्रताप जहां 12वीं पास हैं, वहीं उनकी होने वाली पत्नी ऐश्वर्या राय एमबीए हैं. ऐश्वर्या ने पटना के नॉट्रेडम स्कूल से पढ़ाई की है. ऐश्वर्या ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेज मिरांडा हाउस से इतिहास में स्नातक किया है. बाद में एमिटी यूनिवर्सिटी से एमबीए भी किया. दोनों परिवार राजनीति से जुड़े हैं.

लेकिन इन सब ख़बरों से परे आप अगर राबड़ी देवी द्वारा 2017 में कही गई बात जरूर याद होगी जो सुर्ख़ियों में कई दीयों तक छाया रहा था। बात जून 2017 की है जब राबड़ी देवी ने अपने बेटों के लिए बहु में क्या- क्या गुण तलाश रहीं का जिक्र किया था।

लालू के 69वें जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में जब उनसे दोनों बेटों की शादी को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उनको ऐसी बहू चाहिए जो मॉल और मूवी थियेटर नहीं जाए। उनको एकदम देसी बहू चाहिए जिसके अंदर सारे संस्कार हों।

उन्होंने बताया था कि तेज प्रताप बहुत ही धार्मिक हैं, इसलिए उनके लिए उन्हें संस्कारी लड़की चाहिए। राबड़ी घर चलाने वाली और बड़ों का आदर करने वाली लड़की तलाश कर रही थीं।

rabri devi sanskari bahu

उन्होंने कहा था कि वो ‘संस्कारी लड़की’ को बहू बनाएंगी. साथ ही उन्होंने कहा कि खास तौर पर तेज प्रताप के लिए वह संस्कारी लड़की चाहती हैं क्योंकि उनके मुताबिक वह बहुत धार्मिक है. उन्होंने कहा कि उन्हें घर चलाने वाली, बड़े बुजुर्गों का आदर करने वाली लड़की चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि जैसे कि हम हैं हमें वैसी ही लड़की चाहिए.

लालू यावद के नौ बच्चे हैं, जिनमें सात लड़कियां और दो लड़के हैं। लालू अपने सभी लड़कियों की शादी कर चुके हैं, जबकि बिहार सरकार में मंत्री रहे दोनों बेटों अब बड़े बेटे की शादी तय हो चुकी है। लेकिन क्या उनकी होने वाली मॉल नहीं जातीं????

खैर तब भी उनकी बात पर लोगों ने सवाल उठाया था की क्या मॉल जाने वाली लड़कियां संस्कारी नहीं होतीं?? अगर नहीं तो लालू-राबड़ी परिवार खुद ही क्यों पटना में इतना बड़ा मॉल बनवा रहे हैं??

गौरतलब है कि पटना में लालू यादव एक बहुचर्चित मॉल बनवा रहे हैं। पर्यावरण मंत्रालय की मंजूरी नहीं लेने की वजह से उस पर रोक लगा दी गई है।

बिहार में जन्मे लालू यादव ने जेपी आंदोलन से अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत की। केंद्र सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके लालू यादव और उनकी पत्नी राबड़ी देवी अपने देसी अंदाज के लिए जाने जाते हैं। लालू-राबड़ी ने घर में कई गाय-भैंस पाले हैं। घर में तमाम नौकर होने के बावजूद लालू समय निकाल कर अपने जानवरों की देखभाल खुद करते हैं।

अपने बेटे के लिए ‘वेल कल्चर्ड’ बहू चाहने वाली राबड़ी की इस टर्म के लिए उनकी खुद की ही परिभाषा है. हम इस बात से इत्तेफाक रखते हैं कि न सिर्फ बिहार, बल्कि दुनियाभर में आज भी ऐसे न जाने कितने लोग जो इस बात को सही मानते हैं जैसा राबड़ी ने कहा था।

कई सारे भारतीय मॉल और सिनेमा हॉल जाने वाली लड़कियों को ‘कल्चर्ड’ नहीं मानते और राबड़ी की बात सुनकर उन्हें सुकून मिला होगा लेकिन आज जनता जानना चाहेगी की उनकी होने वाली बहु मॉल नहीं जाती है या अब जाना बंद कर देगी ???

Leave a Reply

Your email address will not be published.