पुराने पैटर्न पर होगी बीपीएससी परीक्षा, अभ्यर्थियों के बवाल के बाद सीएम नीतीश ने पलटा फैसला

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की प्रारंभिक परीक्षा पहले की तरह एक दिन और एक ही पाली में आयोजित की जाएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीपीएससी अभ्यर्थियों के विरोध के बाद आयोग का फैसला पलट दिया है। सीएम नीतीश ने बीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा को लेकर परीक्षार्थियों की समस्या पर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी और आयोग के अध्यक्ष अतुल प्रसाद के साथ गुरुवार को बैठक की। इस बैठक में यह अहम निर्णय लिया गया। बता दें कि परीक्षार्थियों ने पुराना पैटर्न लागू करने के लिए बुधवार को पटना में प्रदर्शन किया था। इस दौरान उनकी पुलिसकर्मियों से भिड़ंत्त हो गई थी।

बीपीएससी 67 वीं की प्रारंभिक परीक्षा एक पाली में ली जाएगी। मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारियों एवं क्षेत्रीय अधिकारियों के साथ विमर्श किया। इसके बाद सीएम नीतीश ने बेहतर परीक्षा केंद्र पर एक ही दिन में परीक्षा करने का निर्णय लिया। बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से जल्द ही इस बारे में नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा।

बीपीएससी अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज के बाद हुआ था विवाद

बता दें कि एक दिन पहले बीपीएससी अभ्यर्थियों ने एक ही दिन में परीक्षा आयोजित करने और पर्सेंटाइल सिस्टम को लेकर विरोध जताया था। पटना में बुधवार को सैकड़ों अभ्यर्थी सड़कों पर उतर गए और बीपीएससी कार्यालय की ओर कूच करने लगे। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन वे नहीं माने। इसके बाद उनकी पुलिसकर्मियों से भिड़ंत्त हो गई। पुलिस ने प्रदर्शनकारी छात्रों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा। इसे लेकर नीतीश सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.