होली से पहले सभी एक्‍सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की तैयारी, स्‍पेशल ट्रेनों के किराए से मिलेगी राहत

खबरें बिहार की

पटना: कोरोना संकट (Coronavirus India) के कारण भारतीय रेलवे अपनी पूरी क्षमता के साथ नहीं चल रही है. हालांकि देश में कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine) के आने और संक्रमितों की संख्या कम होने के बाद हालात अब थोड़े-थोड़े बदलने लगे हैं. ऐसे में लोगों को इंतजार है कि सभी ट्रेनों का सामान्‍य परिचालन (Normal Train Operation) जल्द बहाल हो.

बता दें कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार घट गयी है, लेकिन कोविड-19 के तहत चल रहे स्पेशल ट्रेनों का किराया नही घट रहा है. इससे विशेषकर ऐसे यात्री ज्यादा प्रभावित हो रहे है, जो रविवार छोड़कर अन्य दिनों में रोजी रोजगार और नौकरी-शिक्षा के लिए एक शहर से दूसरे शहर सिर्फ ट्रेनों से सफर करते हैं. इन समस्याओं से भारतीय रेलवे जल्द ही निजात दिलाने की कोशिश में है.

रिपोर्ट के मुताबिक, रेलवे ने सभी एक्‍सप्रेस, मेमू, डेमू और अन्‍य लोकल पैसेंजर ट्रेनों के सामान्‍य परिचालन के लिए मार्च तक की तैयारी रखी है. अगर सब ठीक रहा तो जल्द ही सभी एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनें पूर्व की भांति चलने लगेंगी. इस संबंध में पूमरे के महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई जानकारी दी थी.

उन्होंने कहा था कि इस माह के अंत तक सरायगढ़-दरभंगा के बीच ट्रेन परिचालन शुरू होगा. उन्होंने था कि कहा कि जयनगर से नेपाल के जनकपुर तक ट्रेन परिचालन को लेकर रेलवे बोर्ड की अनुमति का इंतजार है. रक्सौल से काठमांडु तक नयी रेललाइन बनेगी. वर्तमान में पूर्व मध्य रेल क्षेत्र से 215 मेल-एक्सप्रेस और 39 पैसेंजर ट्रेनों का भी परिचालन शुरू किया गया है. इसके बावजूद यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

पूर्व मध्य रेल की ओर से रेलवे बोर्ड से नियमित सवारी गाड़ियों के परिचालन की अनुमति मांगी गई है. शीघ्र ही अनुमति मिलने की उम्मीद है. संभवत: मार्च के मध्य तक यानी होली से पहले एक्सप्रेस के साथ ही पैसेंजर ट्रनों का भी परिचालन शुरू कर दिया जाएगा.

बता दें कि इस बार होली मार्च के अंत में हैं. होली के मद्देनजर रेलवे ने पहले ही कई ट्रेनों की परिचालन अवधि में विस्तार किया है तो वहीं नयी ट्रेनों को चलाने की घोषणा भी की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *