आज बादलों ने फिर साज़िश की
जहाँ मेरा घर था वहीं बारिश की
अगर फलक को जिद है ,बिजलियाँ गिराने की
तो हमें भी ज़िद है ,वहि पर आशियाँ बनाने की

दुनिया के सबसे बेहतरीन और मशहूर लोग वो होते जिनकी अपनी एक अदा होती है…. वो अदा जो किसी की नक़ल करने से नही आती… वो अदा जो उनके साथ जन्म लेती है…!! प्रणति राय प्रकाश की शख्सियत भी कुछ ऐसी ही है। जानी मानी मॉडल प्रणति राय प्रकाश आज के दौर में फैशन और मॉडलिंग इंडस्ट्री की दुनिया में धूमकेतु की तरह छा गयी हैं गयी हैं। उनकी ज़िन्दगी संघर्ष, चुनौतियों और कामयाबी का एक ऐसा सफ़रनामा है, जो अदभ्य साहस का इतिहास बयां करता है।प्रणति राय ने अबतक के अपने करियर के दौरान कई चुनौतियों का सामना किया और हर मोर्चे पर कामयाबी का परचम लहराया।

बिहार की राजधानी पटना की रहने वाली प्रणति राय प्रकाश के पिता कर्नल प्रेम प्रकाश और मां साधना राय घर की लाडली बेटी को उच्चअधिकारी बनाने का ख्वाब देखा करते थे। हालांकि बचपन के दिनों से ही प्रणति की रूचि फैशन और मॉडलिंग की ओर थी। प्रणति के पिता सेना में थे और इसी वजह से उनका तबादला कई शहरों में होता रहता। प्रणति ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा देहरादून से पूरी की और इसके बाद पिता के तबादले की वजह से वह राजधानी पटना आ गयी जहां उन्होंने इंटरमीडियट की पढ़ाई पूरी की। प्रणति का रूझान स्कूल के दिनों से ही फैशन डिजाइनिंग की ओर था और वह सेना में होने वाले कार्यक्रम में बार्बी ड्रेस डिजाइन किया करती थी जिसके लिये उन्हें काफी सराहना मिला करती।

जुनूँ है ज़हन में तो हौसले तलाश करो
मिसाले-आबे-रवाँ रास्ते तलाश करो
ये इज़्तराब रगों में बहुत ज़रूरी है
उठो सफ़र के नए सिलसिले तलाश करो

प्रणति राय प्रकाश फैशन डिजाइनर के तौर पर अपनी पहचान बनाना चाहती थी। वर्ष 2012 में प्रणति राय ने राजधानी दिल्ली में हुये मे क्वीन वॉल दिल्ली 2012 में शिरकत करने का अवसर मिला। प्रणति भले ही शो की विजेता नही बन सकी लेकिन टॉप 5 में शामिल होने में कामयाब रही। प्रणति का मानना है कि जिंदगी में कुछ पाना हो तो खुद पर ऐतबार रखना ,सोच पक्की और क़दमों में रफ़्तार रखना कामयाबी मिल जाएगी एक दिन निश्चित ही तुम्हें ,बस खुद को आगे बढ़ने के लिए तैयार रखना। प्रणति ने इसके बाद मुंबई निफ्ट से चार वर्षीय कोर्स पूरा किया।

वक़्त आने दे दिखा देंगे तुझे ऐ आसमाँ
हम अभी से क्यूँ बताएँ क्या हमारे दिल में है

वर्ष 2015 में प्रणति राय प्रकाश ने मिस इंडिया में हिस्सा लिया और फाइलिस्ट बनी।इसके बाद प्रणति ने मुंबई में हुये एमटीवी इंडिया के लोकप्रिय रिएलिटी शो इंडियाज नेक्स्ट टॉप मॉडल सीजन 02 में हिस्सा लिया और विजेता का ताज अपने नाम कर लिया। इसी बीच प्रणति ने आईआईटी की ओरे से आयोजित कई मॉडलिंग हंट को जज करने का अवसर मिला साथ ही कई शो में वह विजेता भी बनी।

ज़िन्दगी की असली उड़ान अभी बाकी है,
ज़िन्दगी के कई इम्तेहान अभी बाकी है,
अभी तो नापी है मुट्ठी भर ज़मीं हमने,
अभी तो सारा आसमान बाकी है…

प्रणति रॉय प्रकाश ने इसके बाद स्टार प्लस पर आने वाले शो इंडिया नेक्स्ट स्टार में शिरकत किया।इस टीवी कार्यक्रम में करण जौहर और रोहित शेट्टी जैसे दिग्गज निर्माता-निर्देशक जज के रूप में मौजूद थे। प्रणति शो में टॉप 7 में अपनी जगह बनाने में कामयाब रही। प्रणति ने अपनी काबलियत से करण जौहर और रोहित शेट्टी का दिल जीत लिया। प्रणति राय प्रकाश पैन इंडिया लेवल पर हो रहे शो ग्लैम सुपर मॉडल शो की ब्रांड एम्बेस्डर बनायी गयी है।

प्रणति राय प्रकाश ने कहा कि 17-18 साल के युवाओं को भी इस मंच पर उनकी प्रतिभा देखकर अच्छा लगता है कि अब यहां के युवा भी फैशन के प्रति काफी जागरूक हैं। इस तरह की प्रतियोगिता आयोजित होने से उन्हें अपनी हुनर में निखार लाने का मौका मिलता है। पहली बार फैशन एवं मॉडलिंग में पटना में इतना बड़ा आयोजन हो रहा है जिसमें देशभर के युवा युवती प्रतिभागी बन रहे है। देश के कई अन्य राज्यों में भी इवेंट ऑडिशन हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह सुअवसर वैसे युवाओं एवं कंटस्टेंट के साथ साथ इस क्षेत्र में प्रयास कर रहे वैसे मॉडल के लिए भी एक मौका है जो आगे बढ़ना चाहते हैं और ग्लैम सुपर मॉडल इंडिया 2018 बनना चाहते हैं।

प्रणति रॉय प्रकाश आज कामयाबी की बुलंदियों पर हैं लेकिन उनके सपने यूं ही नही पूरे हुये हैं यह उनकी कड़ी मेहनत का परिणाम है।प्रणति राय प्रकाश ने बताया कि वह अपनी कामयाबी का पूरा श्रेय अपने माता-पिता और बड़े भाई शिल्प के साथ ही अपने शुभचिंतकों को देती हैजिन्होंने उन्हें हमेशा सपोर्ट किया है। प्रणति अपनी सफलता का मूल मंत्र इन पंक्तियो में समेटे हुयी हैं।

ज़िन्दगी हसीं है ज़िन्दगी से प्यार करो
हो रात तो सुबह का इंतज़ार करो
वो पल भी आएगा जिस पल का इंतज़ार है आपको
बस खुदा पे भरोसा और वक़्त पे ऐतबार करो

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here