तैयारियां जोरों पर- पटना के मिनी पंजाब में ठहरेंगे 2 लाख श्रद्धालु

खबरें बिहार की

गुरु गोविंद सिंह महाराज के 350वें प्रकाशोत्सव के समापन समारोह के लिए बननेवाली बाइपास टेंट सिटी में दो लाख और कंगन घाट टेंट सिटी में 10 हजार संगत के ठहरने की व्यवस्था होगी। सुरक्षा के लिए चारों ओर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। जोड़ा गठरी घर की सेवा के लिए नौ लोगों को दायित्व सौंपा गया है।

शताब्दी गुरुपर्व के समापन और 351वें प्रकाशोत्सव को लेकर गुरुवार को हुई बैठक के बाद यह जानकारी तख्त प्रबंधक समिति के महासचिव चरणजीत सिंह ने दी। बैठक सरकार के प्रधान सचिव राज्य सरकार के पूर्व सचिव परामर्शदात्री समिति के अध्यक्ष जीएस कंग के साथ अलग-अलग हुई है।

तख्त साहिब में जीएस कंग के साथ हुई बैठक में महासचिव ने तैयारी को लेकर तैयार प्रारूप को रखा। उसमें संगत की सुविधा सुरक्षा को प्रमुखता से शामिल किया गया है। समारोह में उच्च कोटी के रागी जत्थे शामिल होंगे। इसके लिए भी प्रारूप बनाया गया है। तख्त साहिब, गुरुद्वारा गायघाट, कंगन घाट, बाइपास टेंट सिटी, कंगन घाट सहित अन्य प्रमुख स्थानों पर अटूट लंगर चलेगा।

पर्यटन विभाग की ओर से टेंट सिटी का निर्माण होना है। जिसमें संगत हो हर सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिस प्रकार जनवरी माह में व्यवस्था हुई थी। संगत को ठहराने की व्यवस्था स्कूल, कॉलेज विभिन्न सामुदायिक भवन में भी होगी। तख्त साहिब में आयोजित बैठक में कनीय उपाध्यक्ष बीबी कंवलजीत कौर, सचिव महेंद्र सिंह छाबड़ा के अलावा जगजोत सिंह सुमित सिंह कलसी ने भाग लिया।

समारोह को लेकर 13 दिसंबर से प्रभातफेरी आरंभ होगी। 24 दिसंबर को गायघाट गुरुद्वारा से नगर कीर्तन तख्त साहिब पहुंचेगा। मुख्य समारोह 25 दिसंबर को होगा। बैठक में पूर्व सचिव जीएस कंग ने पदधारकों को कहा कि सरकार स्तर पर जिस सुविधा की जरूरत है उसे प्राथमिकता के आधार पर तय करें, ताकि समय सीमा के तहत सभी काम पूरे किए जा सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.