प्रदूषण के असर को बेअसर कर सकते हैं डाइट में शामिल ये 5 एंटी-पॉल्यूशन फूड

जानकारी

बढ़ता प्रदूषण आज हर किसी के लिए एक बड़ी समस्या बनकर उभर रहा है। वायु प्रदूषण की भयावह स्थिति के कारण लोगों को सांस लेने में तकलीफ होने लगी है। एयर क्वॉलिटी इंडेक्स से जुड़े आंकड़े स्पष्ट करते हैं कि दिल्ली में सांस लेने लायक साफ हवा लोगों के लिए अब एक सपना बनकर रह गई है। बता दें, वायु प्रदूषण और स्मॉग में कई सारे खतरनाक पदार्थ मौजूद होते हैं, जो फेफड़े, दिल व अन्य शरीरिक अंगों को डैमेज कर सकते हैं। ऐसे में खुद को इस प्रदूषण के असर से बचाए रखने के लिए आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं ये 5 एंटी-पॉल्यूशन फूड।

वायु प्रदूषण के असर से बचने के लिए खाएं ये फूड-
आंवला-

एंटी-पॉल्यूशन फूड में सबसे पहला नाम आंवला का आता है। आंवला में विटामिन-सी प्रचूर मात्रा में मौजूद होता है। जो हवा में मौजूद हानिकारक पदार्थों से होने वाले सेलुलर डैमेज को होने से रोकता है। वायु प्रदूषण के असर से बचने के लिए आपको अपनी डाइट में रोजाना आंवले को जगह देनी चाहिए।

हल्दी-
हल्दी में मौजूद करक्यूमिन वायु प्रदूषण के खतरनाक असर इंफ्लामेशन को होने से रोकता है। प्रदूषण के कारण होने वाले लंग्स इंफेक्शन से बचने के लिए व्यक्ति को रोजाना 500 एमजी करक्यूमिन सप्लीमेंट लेना चाहिए।

अलसी के बीज –


वायु प्रदूषण के साइड इफेक्ट्स से बचने के लिए आपको रोजाना फ्लैक्स सीड्स (अलसी के बीज) का सेवन करना चाहिए। अलसी के बीज में फाइटोएस्ट्रोजन और ओमेगा-3 फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है। इन बीजों का सेवन नियमित रूप से करने से स्मॉग के कारण अस्थमा के मरीजों में होने वाला एलर्जिक रिएकशन कम किया जा सकता है।

पत्तेदार सब्जियां –
हरी पत्तेदार सब्जियों में बीटा कैरोटीन पाया जाता है। बीटा कैरोटीन में मौजूद  एंटी-ऑक्सिडेंट इंफ्लेमेशन को निंयत्रित रखने में बहुत महत्वपूर्ण रोल निभाता है। यह हमारी बॉडी में विटामिन ए में बदल जाता है। पत्तेदार सब्जियां जैसे चौलाई का साग, धनिया, मेथी, लेटस और पालक में प्रचूर मात्रा में बीटा कौरोटिन पाया जाता है।  मूली के पत्ते और गाजर भी इसका अच्छा स्रोत हैं।

ओमेगा 3 फैट-
यह शरीर को वायु प्रदूषण से पहुंचने वाले हानिकारक प्रभावों से बचाने के साथ दिल को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। इसके लिए अपनी डाइट में मेथी के बीज, सरसों के बीज, नट्स और बीज जैसे अखरोट, चिया के बीज, अलसी के बीज को दही में डालकर अपनी डाइट में शामिल करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.