प्रदेश के कई शहर जम्मू से भी ठंडे, अभी ठंड से नहीं मिलेगी राहत, कोहरे व शीतलहर का अलर्ट

खबरें बिहार की जानकारी

प्रदेश में मंगलवार को धूप निकलने से लोगों को ठंड से राहत मिली। बीते पांच दिनों से शीतलहर से परेशान लोगों के चेहरे खिल उठे। हालांकि, मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में अभी सर्दी का सितम जारी रहेगा। अगले दो दिनों तक राजधानी पटना सहित अन्य जिलों में शीतलहर और कड़ाके की ठंड रहेगी।

प्रदेश के कई जिले जम्मू से भी ठंडे रहे। मंगलवार को जम्मू का न्यूनतम तापमान 8.6 डिग्री सेल्सियस रहा। जबकि पटना का 8.0 डिग्री, सिवान का 5, गया का 6.7, सबौर का 4.5 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान रहा। वहीं 3.2 डिग्री सेल्सियस के साथ बांका प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान रहा।

मौसम विभाग के अनुसार अगले 15 जनवरी तक उत्तर बिहार के जिलों में आसमान साफ रहेगा। मौसम के शुष्क रहने का अनुमान है। अगले दो दिनों तक ऐसे ही कोल्ड डे की स्थिति रहेगी। लगातार पछिया हवा और सामान्य से कम तापमान रहने के कारण कनकनी अभी बरकरार रह सकती है। न्यूनतम तापमान में गिरावट आ सकती है। यह 6-8 डिग्री सेल्सियस के बीच बने रहने की संभावना है। सुबह में कुहासा छाया रह सकता है।

कोहरे की चपेट में रहेगा पटना

राजधानी पटना के मौसम की बात करें तो पटना पिछले पांच दिनों से शीतलहर की चपेट में था। मंगलवार को धूप निकलने से लोगों को राहत मिली। सड़कों और पार्कों में रौनक देखने को मिली। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान पटना समेत आसपास के जिलों में घना कोहरा छाया रहेगा। दोपहर में धूप निकलने से लोगों को राहत मिलेगी।

15 जनवरी के बाद बदल सकता है मौसम

अगले दो दिनों तक राजधानी समेत अधिकतर जिले शीतलहर और कड़ाके की ठंड से प्रभावित रहेंगे। दो दिनों बाद तापमान में आंशिक वृद्धि होने से ठंड में कमी आएगी। हालांकि, 15 जनवरी के बाद मौसम एक बार फिर से करवट लेगा। अगले दो दिनों तक कड़ाके की ठंड के साथ घना कोहरा का असर दिखेगा।

मुजफ्फरपुर में चार साल बाद सबसे अधिक कम तापमान

मुजफ्फरपुर के तापमान में कोई बदलाव देखने को नहीं मिला। सुबह शहर कोहरे के चपेट में रहा। धूप निकली लेकिन हाड़कंपाती सर्दी से लोगों को राहत नहीं मिली। अगले दो दिनों तक मौसम का यही हाल रहने की संभावना है। आसमान साफ रहेगा, लेकिन कनकनी रहने का अनुमान है। ग्रामीण कृषि मौसम सेवा, कृषि मौसम विभाग जलवायु परिवर्तन पर उच्च अध्ययन केन्द्र पूसा के अनुसार मंगलवार को अधिकतम तापमान 15.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से 7.7 डिग्री सेल्सियस कम था। न्यूनतम तापमान की बात करें तो यह 7.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। यह सामान्य से 0.9 डिग्री सेल्सियस कम रहा। चार साल बाद अधिकतम तापमान सबसे कम रहा।

भागलपुर में सीजन का सबसे सर्द दिन

भागलपुर में कड़ाके की ठंड ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। मंगलवार इस सीजन का सबसे सर्द दिन रहा। दोपहर के बाद धूप तो निकली, लेकिन शीतलहर ने इसको बेअसर कर दिया। दिन का तापमान बढ़ सकता है, लेकिन न्यूनतम तापमान गिरने से रात को ज्यादा ठंड पड़ेगी। एक दिन में पांच डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ अधिकतम तापमान 13. 4 पर पहुंच गया है, जिसने पिछले 10 वर्ष का रिकार्ड तोड़ दिया है। न्यूनतम पारा भी अपनी न्यूनतम स्थिति में जाते हुए 4.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है।

कंपकंपी बढाएगी पछुआ हवा

बिहार कृषि विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी सुनील कुमार के अनुसार फिलहाल, प्रदेश में मौसम ऐसा ही बना रहेगा। न्यूनतम तापमान में कमी बनी रहेगी। दिन में देर से धूप खिलेगी। इससे दिन में राहत मिलेगी, लेकिन रातें सर्द होंगी। कोहरे का असर रहेगा। तेज गति से 15 से 18 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पछुआ हवा चलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.