गाँधी सेतु पर खुलेआम पैसे लेकर ट्रक वालों को जाने दे रही थी पुलिस, छह दारोगा समेत 45 पुलिस सस्पेंड

कही-सुनी

जर्जर गांधी सेतु पर रोक के बावजूद ट्रकों को इंट्री देने वाले 45 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। एसपी ट्रैफिक अमरकेश डी ने यह कार्रवाई की है। इन सभी पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज करने के आदेश भी दे दिए गए हैं।

ट्रैफिक पुलिस की बालू माफियाओं से मिलीभगत कर उगाही का बड़ा मामला सामने आया है। ये पुलिसकर्मी प्रतिबंध के बाद भी गांधी सेतु से बालू-गिट्‌टी लदे भारी वाहनों को गुजरने देते थे। हर ट्रक से 1000 व ट्रैक्टर से 500 रुपए वसूलते थे। शिकायत मिलने पर ट्रैफिक एसपी ने जांच की। इसे सही पाया और सोमवार को सेतु पर तैनात 45 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया। इनमें 6 एसआई, 7 एएसआई, 29 सिपाही, 1 हवलदार, 1 पीटीसी व 1 चालक शामिल हैं। इनके खिलाफ अगमकुआं थाने में एफआईआर की गई। एसएसपी ने कहा कि जांच के बाद विधिसम्मत कार्रवाई होगी। मालूम हो, सेतु पर पिछले 7 साल से 10 चक्का वाले व दो साल से बालू लदे वाहनों के प्रवेश पर रोक है। यानी यह खेल लंबे समय से चल रहा है। वैसे ट्रैफिक एसपी ने कहा कि इन वाहनों को 100-150 रुपए लेकर पास कराया जाता था।

वीडियो हो रहा था वायरल पुलिसवालों की अवैध वसूली के खेल का वीडियो लगातार वायरल हो रहा था। हर रोज हजारों रुपये गांधी सेतु पर गाड़ियों को पार करवाने के नाम पर वसूले जाते थे। इसी बीच वरीय अधिकारियों को भी इसकी जानकारी मिली। गांधी सेतु पर लगे सीसीटीवी कैमरे से एसपी ट्रैफिक ने इस बाबत छानबीन शुरू की। कुछ कैमरे में सिपाहियों की वसूली करते तस्वीरें दिखी, जिसके बाद अफसरों का माथा ठनका और उनके खिलाफ कार्रवाई की गई।

सूत्रों की माने तो दो दिन बड़े राजनेता सोनपुर जा रहे थे। गांधी सेतु पर काफिला फंस गया। जब सुरक्षाकर्मियों ने कारण जानना चाहा तो पता चला कि बालू लदे ट्रकों की लाइन लगी हुई है। राजनेता ने पुलिस के आला अफसरों से बात की। इसके बाद हड़कंप मच गया। ट्रैफिक एसपी को जांच का जिम्मा दिया गया और मामले का खुलासा हुआ। हालांकि पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कुछ दिनों से शिकायत मिल रही थी। स्थानीय लोगों ने वसूली का वीडियो भी भेजा था। इसके बाद जांच और कार्रवाई हुई।

एसआई : कामेश प्र. सिंह, भोला यादव, इंद्रदेव यादव, अजय पांडेय, अरुण झा, विनोद।एएसआई : फुलसागर राम, राजीव मिश्रा, मोतीलाल साह, रामबाबू पासवान, राजेश रंजन, राकेश त्रिपाठी, जितेंद्र। सिपाही : अशोक यादव, रामपुकार सिंह, गुड्‌डू सुर्याहा, पवन, सुनील विश्वास, सुरेंद्र प्रसाद, चंदन, विरेंद्र, राहुल, उमेश, राजेश, अखिलेश, संजीत सिंह, अमित, राजेश, उदय, सुमन, विद्यासागर राय, हरिवंश सहनी, गौतम शर्मा, सिंकु, कुंदन, रतन, पिंटू, मुकेश, मंजय, राकेश शुक्ला, दिलीप पासवान, हरेराम, हवलदार मिथिलेश, पीटीसी विद्यासागर,चालक छबीला सिंह।

Leave a Reply

Your email address will not be published.