बीजेपी के 40वें स्थापना दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए भारत के अब तक के प्रयासों ने दुनिया के सामने एक अलग ही उदाहरण प्रस्तुत किया है। भारत दुनिया के उन देशों में है जिसने कोरोना वायरस की गंभीरता को समझा और समय रहते इसके खिलाफ एक व्यापक जंग की शुरुआत की। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लंबी लड़ाई है और न इसमें थकना है और न ही हमें हारना है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हर स्तर पर एक बाद एक प्रोएक्टिव होकर भारत ने कई फैसले लिए। राज्य सरकारों के सहयोग से इन फैसलों को गति भी मिली। भारत ने जिस तेजी और समग्रता से काम किया है। उसकी प्रसंशा सिर्फ भारत ने ही नहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी की है।

पीएम मोदी ने कहा कि देश ने एक के बाद एक अनेक निर्णय किए हैं। उन फैसलों को जमीन पर उतारने के भरसक प्रयास किया। सभी सरकारों को साथ लेकर आगे बढ़ने में काई कमी न रहे इसकी चिंता की।

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हमारी पार्टी का स्थापना दिवस, एक ऐसे समय में आया है जब देश ही नहीं, पूरी दुनिया एक मुश्किल वक्त से गुजर रही है। चुनौतियों से भरा यह वातावरण देश की सेवा के लिए, हमारे संस्कार, हमारे समर्पण, हमारी प्रतिबद्धता को और प्रशस्त करता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘कल रात को 9 बजे, हमने 130 करोड़ देशवासियों की सामूहिक शक्ति के दर्शन किए हैं। हर वर्ग, हर आयु के लोग, अमीर गरीब, पढ़ा-लिखा हो, अनपढ़ हो, सभी ने मिलकर, एकजुटता की इस ताकत को नमन किया, कोरोना के खिलाफ लड़ाई का अपना संकल्प और मजबूत किया।’ उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के समय भारत की जनता ने जिस तरह की परिपक्वता दिखाई है, वह अभूतपूर्व है।

पीएम मोदी ने कहा कि यह लंबी लड़ाई है। न थकना है, न हारना है। लंबी लड़ाई के बाद भी जीतना है। विजयी होकर निकलना है। आज देश का लक्ष्य एक है, मिशन एक है, और संकल्प एक है- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत।

बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि एक ही मंत्र सिखाया गया है कि दल से बड़ा देश। सेवा हमारे संस्कार में है। कोरोना के इस मुश्किल घड़ी में हमारा दायित्व और भी ज्यादा बढ़ जाता है।

Sources:-Hindustan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here