पटना के स्कूलों में गेट, क्लास रूम से बाथरूम के दरवाजे तक रहेंगे सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में

खबरें बिहार की

स्कूलों में बच्चों के साथ आये दिन हो रही घटनाओं ने अभिभावकों के साथ-साथ स्कूलों की भी चिंता बढ़ा दी है। पिछले दिनों जिला प्रशासन की सख्ती के बाद स्कूलों ने सुरक्षित स्कूल की अवधारणा को मूर्त रूप देने की दिशा में प्रयास तेज कर दिया है।

स्कूलों में गेट से लेकर क्लास रूम तक सीसीटीवी कैमरे लगाने की तैयारी की जा रही है। कुछ स्कूलों में कार्य शुरू कर दिया गया है, बच्चों से लेकर शिक्षक, कर्मचारियों व आगंतुकों पर भी पैनी नजर रखी जा सके।

स्कूल में लगेंगे कम-से-कम 25 कैमरे
जिला प्रशासन के निर्देश के अलावा सीबीएसई, सीआईएससीई बोर्ड ने सीसीटीवी कैमरे व सुरक्षा के अन्य इंतजाम को लेकर गाइडलाइन तय की है। इसके अनुसार स्कूलों को हरेक गेट समेत सभी महत्वपूर्ण प्वाइंटों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये जाने हैं। कोई संख्या तय नहीं है। इस तरह प्रत्येक स्कूल में जरूरत को देखते हुए कम-से-कम 25 या इससे अधिक सीसीटीवी कैमरे लगाये जाने हैं।

सीसीटीवी कैमरे ही नहीं, कर्मियों का पुलिस वेरिफिकेशन भी जरूरी : गुरुग्राम के स्कूल में छात्र की हत्या और दिल्ली स्थित एक स्कूल में पांच वर्षीय बच्चे से सफाईकर्मी द्वारा दुष्कर्म समेत आये दिन हो रही ऐसी घटनाओं ने स्कूलों को सोचने पर मजबूर कर दिया है।

स्कूल में सुरक्षा की दृष्टिकोण से सिर्फ सीसीटीवी कैमरे की निगरानी ही काफी नहीं है, बल्कि वहां के कर्मचारियों के आचरण, चरित्र को लेकर भी संवेदनशीलता जरूरी है। ऐसे में स्कूलों को अपने कर्मचारियों का पुलिस वेरिफिकेशन कराने का निर्देश दिया गया है।

उन्हें समय-समय पर इस प्रक्रिया को पूरा करना होगा। इसके अलावा स्कूलों ने अपने पुराने कर्मचारियों से भी फिर से चरित्र प्रमाणपत्र की मांग की है।

 

कहां-कहां लगेंगे कैमरे

सभी गेट, अंदर व बाहर की तरफ, कॉरिडोर, बाथरूम के निकट, क्लास रूम, लाइब्रेरी, लेबोरेटरी, प्ले ग्राउंड, स्टाफ रूम और कार्यालय

Leave a Reply

Your email address will not be published.