पटना समेत राज्य के 17 जिलों के तापमान में गिरावट, बढ़ी ठंड; दो दिनों में और गिरेगा पारा

खबरें बिहार की जानकारी

राजधानी पटना समेत प्रदेश में अगले दो दिनों बाद तापमान में दो से तीन डिग्री की गिरावट होने के साथ ठंड में वृद्धि की संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र पटना की ओर से से अगले दो दिनों तक तापमान में कोई विशेष बदलाव नहीं होगा। प्रदेश में पछुआ हवा की गति छह से आठ किमी प्रति घंटा रहेगी। मौसम विज्ञानी की मानें तो पांच दिनों तक शुष्क बने होने के साथ आसमान मुख्य रूप से साफ रहेगा। प्रदेश के उत्तरी भागों में सुबह के समय हल्के कोहरा छाए रहने की संभावना है।

बीते 24 घंटों के दौरान रविवार को 9.0 डिग्री सेल्सियस के साथ गया शहर प्रदेश का सबसे ठंडा शहर रहा। वहीं, राजधानी के औसत न्यूनतम तापमान में 0.9 डिग्री की वृद्धि के साथ 11.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रविवार को सुपौल, फारबिसगंज, अररिया, कटिहार जिले के औसत न्यूनतम तापमान में आंशिक गिरावट दर्ज की गई।

शहर में बढ़ रहा वायु प्रदूषण का ग्राफ

वहीं, मुजफ्फरपुर शहर में प्रदूषण का स्तर रेड जोन में है। जिला स्कूल इलाके में प्रदूषण का ग्राफ सबसे ऊपर है। समाहरणालय में सबसे कम। जानकारी के अनुसार रविवार को जिला स्कूल क्षेत्र का एक्यूआइ 365, एमआइटी का एक्यूआइ 357 व समाहरणालय का एक्यूआइ 238 दर्ज किया गया। शहर में होने वाले निर्माण कार्य में मानकों की अनदेखी की जाती है। इस कारण उड़ रही धूल ने पूरा मामला ही खराब कर दिया है। सड़क पर दौड़ रही पुरानी गाड़ियां भी प्रदूषण बढ़ा रही हैं। प्रशासन की ओर से इसके रोकथाम के लिए कोई ठोस उपाय नहीं किए जा रहे हैं।

पीएम 2.5 का यह रहा स्तर

रविवार को पीएम 2.5 की मात्रा जिला स्कूल इलाके में सुबह 6 बजे 372, 9 बजे 371, दोपहर 12 बजे 373, शाम 3 बजे 318 व 6 बजे 296 पर रहा। एमआइटी इलाके में सुबह 5 बजे 422, 9 बजे 422, दोपहर 12 बजे 324, शाम 3 बजे 322 व 6 बजे 150 पर रहा। वहीं समाहरणालय इलाके में पीएम 2.5 की मात्रा सुबह 6 बजे 200, 9 बजे 290, दोपहर 12 बजे 98 व शाम 6 बजे 87 पर रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.