Patna

ऐसे कैसे बनेगा Patna स्मार्ट सिटी ? NMCH बना झील,राजेन्द्र नगर तालाब में तब्दील

खबरें बिहार की
Patna में आठ घंटे में हुई 106 एमएम बारिश

राजधानी Patna सहित बिहार के कई जिलों में गुरुवार की देर रात से हो रही मूसलाधार बारिश से जन जीवन अस्त-व्यस्त हो गया है, लेकिन गांव में किसानों के चेहरे पर खुशी की चमक दिख रही है। वहीं पटना में जलजमाव की वजह से लोग परेशान हैं।

गुरुवार देर रात से शुक्रवार सुबह तक करीब आठ घंटे में हुई बारिश से पूरा Patna पानी-पानी हो गया है। राजेंद्र नगर, कदम कुंआ, पटना स्टेशन रोड, चांदमारी रोड समेत पटना के कई इलाकों में जल जमाव हो गया है।

राजेंद्र नगर की स्थिति काफी खराब है। सड़क पर घुटने भर से ज्यादा पानी जमा हो गया है। कई लोगों के घरों में भी पानी घुस गया है।

Patna नगर निगम की लापरवाही से नाराज हैं लोग

Patna




जल जमाव के चलते लोगों में पटना नगर निगम के प्रति आक्रोश है। राजेंद्रनगर निवासियों का कहना है कि हर साल बारिश के दिनों में इस इलाके की स्थिति बदतर हो जाती है।

फिर से एेसी स्थिति  नगर निगम की वजह से हुई है। नालों की सही से उगाही नहीं की जाती, जिससे बारिश का पानी कई दिनों तक जमा रहता है। पानी इतना है कि कही आने-जाने में भी परेशानी है।



जिलाधिकारी ने आज के लिए कक्षाएं बंद रखने का आदेश दिया है साथ ही उन्होंने ने यह भी बताया कि वैसे क्षेत्र जहां विद्यालय मे जलजमाव की समस्या नहीं है , वे कक्षाएं संचालित कर सकते हैं, लेकिन अगर घरों के आस -पास जलजमाव की वजह से जो छात्र- छात्राएं नहीं आ सकते हैं, उन्हें अनुपस्थित नहीं मानने हेतु स्कूल प्रबंधन को आदेश दिया गया है। आज संध्या स्थिति की समीक्षा के उपरांत आगे का निर्णय लिया जायेगा।

वहीं, जलजमाव की वजह से सुबह से जहां-तहां सड़क जाम की भी समस्या हो रही है, गाड़ियों की लंबी कतारें लग गई हैं। सड़क पर बने गड्ढों के पानी से भर जाने की वजह से दुर्घटना की भी आशंका बनी हुई है।

Patna




Patna



Patna



निचले इलाके में बने घरों में बारिश का पानी घुस जाने की वजह से लोगों को परेशानी हो रही है। मेन रोड को छोड़कर गली-मुहल्ले की सड़कों की स्थिति काफी खराब है।



Leave a Reply

Your email address will not be published.