पटना में रातोंरात गायब हो गए एक हजार मजदूर, सुराग ढूंढने पर भी नहीं मिल रहा; बड़े घपले की आशंका

खबरें बिहार की जानकारी

पटना शहर में दिन-रात ड्यूटी कर रहे एक हजार से अधिक सफाई मजदूर रातोंरात लापता हो गए। अब इनको ढूंढने से भी कोई सुराग नहीं मिल रहा है। पटना नगर निगम ने सभी एक हजार मजदूरों की नौकरी एक झटके में खत्‍म कर दी, लेकिन कोई विरोध- प्रदर्शन तो दूर हंगामा करने को भी तैयार नहीं है। नगर निगम से जुड़े लोग इसे बड़ा घोटाला बताने लगे हैं। इधर, आउटसोर्स एजेंसी के माध्यम से तैनात पटना नगर निगम के एक हजार सफाई मजदूर कहां गए? मजदूरों की खोज शुरू हो गई है।

नगर आयुक्त अनिमेश कुमार पराशर ने बताया कि एजेंसियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया जा रहा है। एजेंसी को बताना होगा कि मजदूर कहां चले गए। दोषी एजेंसी और अधिकारियों पर सख्त कार्रवाई जाएगी। नगर आयुक्त की सख्ती से अंचल स्तर पर अधिकारी सक्रिय हो गए हैं। मजदूरों की तलाश शुरू कर दी गई है। नगर आयुक्त का कहना है कि मजदूरों से जुड़े सभी तथ्य मिल गए हैं। जल्द ही रिक्त पदों को भरा जाएगा। सफाई व्यवस्था से कोई समझौता नहीं होगा।

एजेंसी मजदूरों के नाम पर कर रही फर्जीवाड़ा 

सशक्त स्थायी समिति के सदस्य डा. अशीष कुमार सिन्हा का कहना है कि पार्षदों और नागरिकों को सफाई से मतलब है। एजेंसी मजदूरों के नाम पर फर्जीवाड़ा कर रही है।

एजेंसी और अधिकारियों की मिलीभगत से फर्जी निकासी

सशक्त स्थायी समिति के सदस्य इंद्रदीप चंद्रवंशी का कहना है कि एजेंसी और कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से मजदूरों के नाम पर फर्जी निकासी होने की संभावना है। सशक्त स्थायी समिति के सदस्य मनोज कुमार का कहना है कि नगर आयुक्त रिक्त स्थानों पर शीघ्र मजदूरों की बहाली कराएं और शहर की स्वच्छता में सुधार के लिए कार्य करते रहें।

विनय पप्पू ने किया भ्रष्टाचार  के खिलाफ अभियान का स्वागत

पटना नगर निगम के पूर्व उपमहापौर सह पार्षद विनय कुमार पप्पू ने नगर आयुक्त द्वारा आउट सोर्सिंग एजेंसी द्वारा उपलब्ध कराए गए सफाई कर्मी की जांच की सराहना की है। आरोप लगाया कि मजदूरों के नाम पर करोड़ों रुपये लूटा जा रहा है। कई बार नगर निगम बोर्ड में इस ओर ध्यान आकृष्ट कराए हैं। कोई करवाई नहीं हुई थी। नगर आयुक्त के प्रयास से भ्रष्टाचार उजागर हुआ है। यह स्वागत योग्य कदम है। मांग की कि पेट्रोल और डीजल की खरीद, टास्क फोर्स में लगे लोगों की जांच की जाए। पार्षदों से अपील की कि नगर आयुक्त द्वारा भ्रष्ट्राचार के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में सहयोग करें।

नगर आयुक्त ने रात में लिया नाला उड़ाही और सफाई कार्यों का जायजा

पटना नगर निगम क्षेत्र में मानसून पूर्व सफाई, नाला उड़ाही एवं कच्चे नालों की मरम्मत का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। रविवार की रात में नगर आयुक्त अनिमेश कुमार पराशर बांकीपुर एवं पटना सिटी अंचल के विभिन्न वार्ड का जायजा लिया। नगर आयुक्त आर्य कुमार रोड, मछुआ टोली, छटंकी पुल, जैन मंदिर रोड सहित कई इलाकों में भ्रमण किए। आर्य कुमार रोड में पाया कि नाला क्षतिग्रस्त है। एक सप्ताह के अंदर कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया। पटना नगर निगम सुबह एवं रात्रि में नाला उड़ाही एवं निर्माण का कार्य करा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.