पटना में घूमने की ये 5 जगहें हैं बेहद खास, पर्यटकों का लगता है तांता

खबरें बिहार की जानकारी

बिहार की राजधानी पटना बिहार का सबसे बड़ा शहर है। नवीनता के साथ साथ पटना ऐतिहासिक रूप से भी काफी समृद्ध है। पटना में सुविधाओं की उपलब्धता होने के नाते बिहार का सबसे शानदार टूरिस्ट डेस्टिनेशन है। हवाई , रेल और सड़क मार्ग से बेहतर कनेक्टिविटी के चलते पटना में साल भर पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है। देश के अलग अलग हिस्सों और सीमावर्ती राज्यों समेत नेपाल के पर्यटक पटना में घूमने आते हैं। शहर में घूमने फिरने की कई जगहें बेहद खास हैं लेकिन टॉप 5 जगहों में बिहार म्यूजियम, गोलघर, पटना साहिब गुरद्वारा, तारामंडल और श्रीकृष्णा साइंस सेंटर बेहद खास हैं।

बिहार म्यूजियम

पटना में सिटी सेंटर से 2 किलोमीटर दूर स्थित बिहार म्यूजियम में बिहार की कला और संस्कृति के संरक्षण पर बल दिया गया है। म्यूजियम में कई दुर्लभ वस्तुएं भी रखी गयी हैं। बिहार के कई हिस्सों में उत्खनन में मिली पुरावस्तुओं को पटना में स्थित बिहार म्यूजियम में ही रखा गया है। पटना में ऐतिहासिक वस्तुओं के संग्रह स्थान के रूप में बिहार म्यूजियम दर्शनीय पर्यटन केंद्र है। बिहार और देश विदेश के पर्यटक बिहार म्यूजियम घूमने आते हैं।

पटना साहिब गुरुद्वारा

पटना में स्थित पटना साहिब गुरुद्वारा सिखों का सबसे पवित्र स्थल है। देश के अलग अलग कोने और विदेश से श्रद्धालु यहां हर रोज मत्था टेकने आते हैं। गुरुद्वारा विशाल क्षेत्र में बना हुआ है और रोज भव्य लंगर का आयोजन किया जाता है। सिख गुरु गोबिंद सिंह की याद में ये गुरुद्वारा महराजा रणजीत सिंह ने बनवाया था। गंगा नदी के किनारे स्थित गुरुद्वारा पूर्वी भारत में सिखों का सबसे बड़ा केंद्र है।

गोलघर

पटना में नेचुरल ब्यूटी और इतिहास का बेहतरीन साक्ष्य गोलघर पर्यटकों की पसंदीदा जगह है। पार्क और नेचुरल ब्यूटी से सुसज्जित इस जगह का निर्माण अंग्रेजों ने 1786 में स्टोर रूम के तौर पर करवाया था। इसका संरक्षण भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग द्वारा किया जा रहा है।

पटना तारामंडल

राजधानी में स्थित तारामंडल अंतरिक्ष के बारे में जानने की बेहतर जगह है। तारामंडल में कृत्रिम तरीके से ग्रहों, उपग्रहों और अंतरिक्ष संबंधी शो चलाये जाते हैं। ये तारामंडल बिहार में सबसे बड़ा तारामंडल है। स्कूली छात्रों के लिए तारामंडल का अनुभव बेहद खास होता है। पूरे साल तारामंडल में पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है।

श्रीकृष्णा साइंस सेंटर

1978 में बना श्री कृष्णा विज्ञान केंद्र प्रयोगों और सिद्धांतों को प्रदर्शित करने का शानदार केंद्र है। यह विशेष रूप से बच्चों के बीच बहुत लोकप्रिय है। श्रीकृष्णा साइंस सेंटर एक अच्छा शैक्षिक पर्यटन केंद्र है।

पटना में ठहरने और भोजन की बेहतर व्यवस्था उपलब्ध है। सड़क, रेल और हवाई मार्ग से पटना कनेक्टेड है। बिहार के सबसे बड़े और सबसे विकसित शहरी केंद्र के रूप में पटना फेमस है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.