पटना में मां-बेटे को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर हमला, फायरिंग और पथराव से मची अफरा-तफरी; ASI समेत दो जख्मी

खबरें बिहार की जानकारी

बाईपास थाना क्षेत्र के मथनीतल मोहल्ला में मंगलवार की रात नौ बजे पुलिस पर हमले के आरोपित मां-बेटे को गिरफ्तार करने पहुंची पुलिस और नागरिकों के बीच भिड़ंत हो गई। सैकड़ों की संख्या में एकजुट हुए स्थानीय लोगों ने पुलिस वाहन पर हमला कर दिया। भीड़ ने पुलिस की टीम पर पथराव करते हुए आरोपित को छुड़ाने का प्रयास किया। पुलिस ने अपने बचाव में लाठीचार्ज कर भीड़ को खदेड़ दिया। पथराव से पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गया। महिलाओं ने भी पुलिस के खिलाफ मोर्चा संभाल लिया। महिलाओं ने पुलिस पर मारपीट करने का आरोप लगाया। आक्रोश के बीच चार राउंड फायरिंग भी हुई। गोली किसने चलाई यह स्पष्ट नहीं हो सका। पुलिस पर हमले की सूचना पाकर आधा दर्जन थानों की मोबाइल पुलिस पहुंची।

हालांकि, पुलिस फायरिंग होने की बात इनकार कर रही है। पुलिस और स्थानीय लोगों में झड़प के बाद क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। आक्रोशित लोगों ने आगजनी कर पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। पथराव में एक पदाधिकारी पप्पू पासवान व एक पुलिसकर्मी घायल है। पुलिस का कहना है कि पिंटू को गिरफ्तार कर ले जाने के क्रम में उसके भाई व स्थानीय लोगों ने हमला कर उसे छुड़ाने का प्रयास किया था। हालांकि, पुलिस ने खदेड़ कर पिंटू को फिर पकड़ लिया।

दारोगा ने चाय पीने के बाद नहीं दिए रुपए

नागरिकों ने बताया कि चार दिन पहले मथनीतल स्थित चाय दुकान पर पहुंचे एक दारोगा ने चाय पीकर पैसा नहीं दिया। इसी बात को लेकर दुकानदार व दारोगा के बीच बकझक हुई थी। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने दारोगा को खदेड़ दिया। इसी मामले में बाईपास थाना पुलिस मंगलवार की रात चाय दुकानदार व उसकी मां को गिरफ्तार करने पहुंची थी।

चायवाले पर दुकान में शराब पिलाने का आरोप

इधर, बाईपास थानाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि गिरफ्तार चाय दुकानदार पिंटू अपनी दुकान पर आपराधिक चरित्र के लोगों को बैठा कर शराब पिलाता है। पुलिस जब गिरफ्तार करने पहुंची तो उनपर पथराव किया गया।

वहीं, लोगों का कहना है कि बाईपास थाना का दारोगा बी गुप्ता अवैध वसूली करता है। अभद्र व्यवहार करता है। वसूली नहीं देने पर जेल भेजने की धमकी देता है।

भीड़ ने थाने का किया घेराव

स्थानीय लोगों के विरोध के बीच पुलिस आरोपित व उसकी मां को गिरफ्तार कर थाना ले आई। उधर, गिरफ्तार मां-बेटा के पीछे-पीछे आक्रोशित नागरिक बाईपास थाना पहुंच गए। उन्होंने थाना का घेराव कर दिया। नागरिकों ने बताया कि पुलिस ने लाठी से प्रहार कर खदेड़ते हुए महिलाओं व पुरुषों को घायल किया।

मां-बेटे को छोड़ने की मांग कर रहे थे स्थानीय लोग

लोगों का कहना है कि रात लगभग नौ बजे बाईपास थाना पुलिस मथनीतल मोहल्ला पहुंचकर पिंटू और उसकी 50 वर्षीय मां को पुलिस वाहन में बैठा लिया। मां-बेटे की गिरफ्तारी का विरोध करते हुए स्थानीय नागरिक हंगामा कर गिरफ्तार को छोड़ने की मांग करने लगे।

पुलिस पर मारपीट करने का आरोप

नागरिकों का कहना था कि पिंटू व उसकी मां की गिरफ्तारी विरोध करने पर लोगों के साथ पुलिस मारपीट करने लगी। मारपीट से आक्रोशित नागरिक पथराव करने लगे। पथराव में पुलिस जीप का शीशा टूट गया। नागरिकों के विरोध के बीच पुलिस पिंटू तथा उसकी मां को गिरफ्तार लेकर बाईपास थाना पहुंच गई। उसके बाद उग्र नागरिक बाईपास थाना पहुंचकर हंगामा करने लगे। थानाध्यक्ष ने बताया कि नागरिकों ने थाना पर बोतल फेंका।

नागरिकों ने बताया कि पुलिस ने हवाई फायरिंग कर नागरिकों को लाठी से पीटते हुए खदेड़ा। थानाध्यक्ष अमित कुमार ने फायरिंग करने की बात से इंकार किया। पुलिस-पब्लिक के बीच हुई भिडंत से मोहल्ला में देर रात तक तनाव का माहौल रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.