पटना के घाटों पर 600 मजिस्ट्रेट और 3500 जवान तैनात, दिक्कत हो तो इन नंबरों पर करें फोन

खबरें बिहार की जानकारी

आस्था के महापर्व छठ पूजा की शुरुआत आज से हो गई। चार दिवसीय त्योहार नहाय खाय के साथ प्रारंभ हुआ। सवेरे से ही विभिन्न नदियों के घाटों पर पवित्र स्नान करने वालों की भीड़ लगी है। घाटों पर सुरक्षा को लेकर सरकारी तंत्र सजग है।  राज्य भर से छठ व्रतियों और श्रद्धालुओं के पटना आने  का सिलसिला शुरू हो गया है।

छठ पूजा को देखते हुए गंगा नदी घाटों व चिह्नित तालाबों पर लगभग 600 मजिस्ट्रेट और 3000 से अधिक पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी। इनकी तैनाती 30 अक्टूबर को होगी। खतरनाक घाट, संपर्क पथ, वाच टावर, मेडिकल कैंप, रिवर पेट्रोलिंग के अलावा शहर के प्रमुख चौक-चौराहों पर भी पदाधिकारी व जवान तैनात किए जाएंगे।

डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि छठ महापर्व को देखते हुए गंगा के किनारे सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई है। सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। गांधी मैदान स्थित नियंत्रण कक्ष से निगरानी की जाएगी। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम गंगा में 29, 30 और 31 अक्टूबर को भ्रमण करेगी। शहर में पुलिस पेट्रोलिंग भी तीनों दिन नियमित रूप से कराई जाएगी।

मोहल्ले में होगी पेट्रोलिंग छठ को लेकर काफी संख्या में लोग पटना शहर से अपने-अपने घर चले जाते हैं, इसीलिए चोरी की संभावना रहती है। सभी थानाध्यक्षों को कहा गया है कि मोहल्लों में भी पेट्रोलिंग कराएं, ताकि असामाजिक तत्व खाली घरों को निशाना नहीं बना सकें।

जगह-जगह बैरिकेडिंग लगा वाहनों की जांच होगी

गंगा घाटों को 34 सेक्टर में बांटा गया है। पूजा के दौरान गंगा में कोई डूबे नहीं, इसके लिए घाटों पर आठ एनडीआरएफ, एसडीआरएफ व गोताखोरों की टीम रहेगी। लूटपाट, छिनतई व खाली घरों में चोरी की वारदात को रोकने के लिए स्थानीय पुलिस के साथ ही डायल-112 वाहन को रिहायशी इलाकों में नियमित गश्त निर्देश दिया गया है। एसएसपी डॉ. मानवजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि छठ पूजा के दौरान पटना पुलिस के 1200 जवान व अधिकारियों के साथ अर्धसैनिक बलों की तैनाती की जाएगी। छठ घाटों पर ज्यादा से ज्यादा महिला पुलिसकर्मियों को लगाया जाएगा।

124 वोलेंटियर्स रहेंगे

छठव्रतियों की सुरक्षा व सुविधा के लिए घाटों पर नाविक एवं गोताखोरों संग सिविल डिफेंस के 124 वालंटियर्स रहेंगे। देसी नाव, नाविक, गोताखोर का 70 दल आपदा से निपटने को मुस्तैद रहेंगे। 23 प्रखंडों में 289 नाव, 289 नाविक तथा 324 गोताखोर की ड्यूटी लगाई गई है।

43 वाच टावर से नजर

छठ के दौरान राजधानी में 43 वाच टावर बनाए जाएंगे। वहां नागरिक सुरक्षा वालंटियर्स की प्रतिनियुक्ति की गई है। वहीं, 18 नदी गश्ती दल की तैनाती की गई है। गश्ती दल लाइफ जैकेट, गोताखोर एवं अन्य उपस्करों से लैस रहेंगे। तीन रिवर एंबुलेंस भी तैनाती की जाएगी।

दिक्कत हो तो करें फोन

जिला नियंत्रण कक्ष 0612-2219810/2219234/9431800675

पटना सिटी अनुमंडलीय नियंत्रण 0612-2631813

आपात नंबर 112

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.