पटना गांधी मैदान के रावण दहन में शामिल होंगे नीतीश और तेजस्वी, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

आस्था खबरें बिहार की

पटना के गांधी मैदान में दशहरा पर्व को इस बार फिर से भव्य बनाने की तैयारियां पूरी हो गयी हैं। हर साल की तरह ही इस बार भी गांधी मैदान का रावण दहन खास होगा। रावण का 70 फीट ऊंचा पुतला बनाया गया है। बुधवार की शाम में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में लोगों की बंपर भीड़ जुटने की उम्मीद है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव भी कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। शाम 4 बजे नीतीश और तेजस्वी गांधी मैदान पहुंचेंगे। शहर में झांकी निकालने के बाद शाम में राम लक्ष्मण की झांकी करीब 4 बजे गांधी मैदान में प्रवेश करेगी। मुख्यमंत्री नीतीश और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी झांकी की आरती करेंगे। उसके बाद करीब 5 बजे रावण, कुम्भकरण और मेघनाद के पुतले का दहन किया जाएगा।

आयोजन कमेटी ने बताया कि गांधी मैदान में रावण वध का यह 67वां वर्ष होगा। कोरोना संक्रमण के कारण बीत तीन सालों से रावण वध नहीं हो पा रहा था। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे। रावण के पुतले की ऊंचाई 70 फीट, मेघनाद की ऊंचाई 65 और कुंभकर्ण की ऊंचाई 60 फीट होगी। इको फ्रेंडली आतिशबाजी होगी।

बारिश नहीं बन पाएगी बाधा

आयोजन कमेटी के सदस्यों ने बताया कि  इस बार बारिश होने के बावजूद रावण वध कार्यक्रम में कोई अड़चन नहीं पैदा होगी। बारिश की संभावना को देखते हुए रावण, मेधनाद और कुंभकर्ण के पुतलों पर प्लास्टिक वार्निश की गयी है। इसके कारण भगवान राम के चलाए तीर से पुतले धू-धू कर जलेंगे।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम 

पुलिस प्रशासन दशहरा मेले को देखते हुए अलर्ट पर है। गांधी मैदान में पुलिस सहायता केंद्रों और बूथों के अलावा वाच टावर भी बनाया गया है। किसी भी प्रकार के उपद्रव भगदड़ से बचने के लिए चप्पे चप्पे पर पुलिस की तैनाती की गयी है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बीते दिनों से इस बाबत तैयारियां की जा रही हैं। आयोजन समिति ने लोगों से अपील की है कि अपने बच्चों की जेब में अपने नाम और मोबाइल नंबर की पर्ची अवश्य रखकर ही मेला घुमनेर आएं। इससे किसी भी स्थिति में बच्चों के परिजनों से संपर्क करने में सुविधा होगी।

हर साल की तरह ही इस साल भी गांधी मैदान में रावण दहन का कार्यक्रम सूबे का सबसे बड़ा कार्यक्रम होगा। मेला क्षेत्र में लोगों की बंपर भीड़  की उम्मीद जताई जा रही है। बीते दिनों से खराब हुए मौसम का असर भी पड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.