परितोष त्रिपाठी कई रियलिटी शो के होस्ट रहे हैं। एंकरिंग के दौरान वे कई बार बेहतरीन कविताएं सुनाते नजर आते हैं। ये कविताएं उनकी अपनी होती हैं। अब उन्होंने अपनी कविताओं को एक किताब के रूप लोगों के सामने पेश किया है। परितोष की किताब का नाम मन पतंग दिल डोर है। इस किताब में कुल 51 कविताएं है।

साहित्य मेरे खून में है: परितोष

  1. इस बारे में परितोष बताते हैं- ‘मेरे माता पिता दोनों साहित्य के टीचर रहे हैं और मैंने भी साहित्य में ही पढ़ाई की है। इसी वजह से साहित्य मेरे खून में है। लेकिन कभी सोचा नहीं था की कोई किताब लिखूंगा। लिखने का अधिक शौक रियलिटी शो के दौरान चढ़ा और जिन सभी कविताओं को मैं शो में नहीं बोल पाया उन्हें मैंने किताब की शक्ल दे दी।’
  1. किताब के कवर पेज के लिए अनुराग बासु ने की मदद: परितोष परितोष आगे बताते हैं- ‘इस किताब के कवर पेज के लिए अनुराग बासु सर ने मदद की और मेरे सह कलाकार रित्विक धनजानी ने भी सपोर्ट किया। गीता कपूर दीदी का भी बहुत सहयोग रहा और शिल्पा शेट्टी जी को जब पता चला तो वो भी बहुत खुश हुईं। कुछ और किताबें है जो जल्द ही छपने वाली हैं। उम्मीद करता हूं जिस तरह मेरी कविताओं को शो में लोगो ने पसंद किया वैसा ही प्यार किताब को भी मिलेगा।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here