अब देवघर में चढ़ाए गए फूल का बनता है जैविक खाद, नहीं जाते बेकार

आस्था

देवघर के वैद्यनाथ मंदिर और प्रांगण में स्थित अन्य 21 मंदिरों से निकलने वाले फूल व बेलपत्र अब कूड़ों के साथ नहीं फेंके जाते हैं। अब इनको एकत्रित कर उससे जैविक खाद तैयार की जा रही है।

उसे बाजार में बेचा भी जा रहा है। अलग-अलग पौधों के लिए जैविक खाद तैयार की जा रही है। देवघर में ही इसके लिए प्लांट लगाया गया है। नगर के बिलासी टाउन मोहल्ले में शिवेष्ट नामक एनजीओ की ओर से जैविक खाद बनायी जा रही है।
बाबा वैद्यनाथ मंदिर प्रबंधन की ओर से यह पहल की गई है। प्लांट की स्थापना के लिए संताल परगना माईंस चितरा की ओर से सीएसआर के तहत आठ लाख रुपए दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *