सावन की पहली सोमवारी , देवघर में उमड़ा शिव भक्तों का जन सैलाब

आस्था

पटना: सावन की पहली सोमवारी पर बाबा नगरी देवघर में भक्तों का जन सैलाब उमड़ पड़ा। बम बम भोले और हर-हर महादेव के नारों के साथ भोले के भक्तों ने भगवान भोले नाथ का जलाभिषेक किया। इसके साथ ही देश भर के मंदिरों में भी भक्तों ने भगवान भोले की पूजा की।

जानकारी के मुताबिक सावन के पहले सोमवार के दिन करीब 2 लाख से ज्यादा कांवरियों ने बाबा भोलेनाथ पर जलाभिषेक किया। इसके लिए बाबा भोले के भक्त रविवार देर रात से ही कतार में लग गए थे। ऐसा माना जाता है कि सावन के महीने में सोमवार को शिवलिंग पर जलाभिषेक करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है और भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं।

 मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कि श्रद्धालुओं से बात

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी आज देवघर आए श्रद्धालुओं से ऑनलाइन बातचीत की और उनसे मेले का अनुभव जाना। साथ ही उनकी परेशानियों को भी जाना। इसके बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि देवघर वास्तव में देव भूमि है। यहां भगवान शंकर के परम भक्त रावण द्वारा स्थापित शिवलिंग है। साथ ही देवी सती का हृदय यही गिरा था। इसलिए यहां शक्ति पीठ भी है। भोलेनाथ मनोकामना ज्योर्तिंलिंग के दर्शन के लिए आए सभी श्रद्धालुओं की मनोकामना पूर्ण करें। साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि देश-दुनिया के ज्यादा से ज्यादा भक्त यहां आएं यही हमारा प्रयास है।

प्रशासन ने किए हैं सुरक्षा के व्यापक इंतजाम

सावन के पहले सोमवार के मद्देनजर और भक्तों की भीड़ देखते हुए जिला प्रशासन के द्वारा सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए है। हर जगह पुलिसकर्मियों  को तैनात किया गया  है। साथ ही महिला पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया गया है। प्रशासन सीसीटीवी और ड्रोन कैमरों के माध्यम से पूरे इलाके में अपनी पैनी नजर बनाए हुए है। भोले के भक्तों को कोई परेशानी ना हो इसके लिए प्रशासन ने सभी जरूरी इंतजाम किए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.