हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार, मां लक्ष्मी को धन की देवी माना जाता है. माना जाता है कि अगर पूरे विधि विधान के साथ मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना की जाती है तो वो प्रसन्न होती हैं. जो भक्त शुक्रवार के दिन मां लक्ष्मी की पूजा अर्चना करते हैं, उनके घर में धन धान्य की कभी कमी नहीं होती है. भारतीय संस्कृति में विवाहित महिलाओं को भी गृहलक्ष्मी माना जाता है. आइए जानते हैं शुक्रवार के दिन ऐसे कौन से उपाय करने चाहिए और किस विधि से मां लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए ताकि वो प्रसन्न रहें…



मां वैभव लक्ष्मी की पूजा:
मान्यता है कि शुक्रवार के दिन मां वैभव लक्ष्मी की पूजा अर्चना और व्रत करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है. इस दिन पूरे दिन व्रत रखकर मां वैभव लक्ष्मी की पूजा अर्चना करनी चाहिए और शाम के समय मां की पूजा करने के बाद मां वैभव लक्ष्मी की कथा का पाठ करना चाहिए. इसके बाद कुछ मीठा खाकर व्रत खोल सकते हैं. ध्यान रहे कि इस व्रत में नमक से बना कोई भी खाद्य पदार्थ ग्रहण नहीं करना है.

गज लक्ष्मी की पूजा;
ऐसा माना जाता है कि शुक्रवार के दिन मां गजलक्ष्मी की पूजा अर्चना करने से उन लोगों को योग्य संतान की प्राप्ति होती है जो निः संतान होते हैं. साथ ही यश, वैभव और धन की भी प्राप्ति होती है.

धन की हानि से बचने के उपाय:
अगर बार बार आपका पैसा खो रहा है या आपका नुकसान हो रहा है तो इससे बचने के लिए घर के मेनगेट पर गुलाल डालकर इसपर देसी घी का दो बत्तियों वाला दिया जलाना चाहिए. इसके साथ ही मन ही मन मां से यह प्रार्थना करनी चाहिए कि वो आपको इस आर्थिक नुकसान से बचाएं. जब दिए की ज्योति बुझ जाए तो इसे पवित्र जल में प्रवाहित कर देना चाहिए.



सुख-समृद्धि के लिए करें ये काम:
सुख-समृद्धि घर में बरकरार रखने के लिए पीपल के पेड़ के नीचे खड़े होकर लोहे के लोटे में जल, चीनी, घी तथा दूध मिलाकर पेड़ की जड़ में अर्पित करें. मान्यता है कि ऐसा करने से घर में खुशहाली बरकरार रहती है.

Sources:-News18.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here