21 अगस्त को पटना आयेगी पूर्व PM वाजपेयी की अस्थियां, आगे का ये है पूरा कार्यक्रम

जानकारी

देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से बिहार भाजपा में शोक का माहौल है. अटल जी की याद को जीवंत रखने के लिए प्रदेश भाजपा पटना में गंगा सहित बिहार की सभी नदियों में उनकी अस्थियाँ प्रवाहित करेगी. बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय दिल्ली से अटल जी की अस्थियाँ लेकर 21 अगस्त, 2018 को दोपहर 1.00 बजे हवाई जहाज से पटना पहुंचेंगे. अटल जी का बिहार से खास लगाव रहा है और सिर्फ भाजपा ही नहीं समस्त बिहारवासी भी इस रिश्ते को जीवन्तता से महसूस करते हैं.

बिहार भाजपा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार नित्यानंद राय दिल्ली से अटल जी की अस्थियाँ लेकर 21 अगस्त, 2018 को प्लेन से पटना पहुंचेंगे. इसके बाद का कार्यक्रम निम्न है –

भाजपा के समस्त नेता पटना एयरपोर्ट से अस्थिकलश को साथ लेकर एसकेएम हॉल पहुंचेंगे.
एसकेएम हॉल में दोपहर 3.00 बजे प्रार्थना सभा का आयोजन फिर सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा होगी.
देर शाम अस्थिकलश को 8- वीरचंद पटेल पथ स्थित बिहार भाजपा के मुख्यालय में लाया जायेगा.
प्रदेश भाजपा मुख्यालय में रात भर पार्टीजन और आम लोग अस्थिकलश का अंतिम दर्शन करेंगे.
22 अगस्त को अटल जी की अस्थि पटना में गंगा एवं बिहार की सभी नदियों में प्रवाहित होगी.

बताया गया है कि पटना के जयप्रकाश नारायण अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय के नेतृत्व में भाजपा संगठन के सभी नेता, केन्द्रीय मंत्री, सांसद, विधायक एवं कार्यकर्त्ता अस्थिकलश को लेकर पटना गाँधी मैदान स्थित श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल पहुंचेंगे. एसकेएम हॉल में दोपहर 3.00 बजे प्रार्थना सभा का आयोजन किया जायगा और सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा होगी। जिसमें सभी राजनीतिक दलों के नेता- कार्यकर्त्ता, सामाजिक संगठनों के लोग और स्थानीय आमजन आमंत्रित होंगे.

श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में कार्यक्रम की समाप्ति के बाद अस्थिकलश को 8- वीरचंद पटेल पथ स्थित बिहार भाजपा के मुख्यालय में लाया जायगा जहाँ रात भर पार्टी को लोग और आम लोग अस्थिकलश का अंतिम दर्शन कर सकेंगे. फिर अगले दिन 22 अगस्त, 2018 को पटना में गंगा नदी में अटल जी की अस्थि प्रवाहित की जायगी. साथ ही इसी दिन बिहार की अन्य नदियों में अटल जी की अस्थि को प्रवाहित करने के लिए रवाना किया जायगा.

मालूम हो कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां देश भर की कई नदियों में विसर्जित की जाएंगी और इसकी शुरुआत आज यानी रविवार को हरिद्वार में गंगा नदी में उनकी अस्थियों के विसर्जन के साथ होगी. इस अस्थि कलश यात्रा में शामिल होने के लिए 200 बसों में 15000 बीजेपी कार्यकर्ता देहरादून से हरिद्वार पहुंच रहे हैं. भाजपा नेता भूपेन्द्र यादव ने बताया कि पवित्र शहर में होने वाले विसर्जन कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित अन्य नेता शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.