ओमिक्रोन को लेकर बिहार में अलर्ट! पटना एयरपोर्ट पर रोजाना विदेश से आ रहे हैं 30-40 यात्री, मांगी जाती है ये रिपोर्ट

जानकारी

पटना एयरपोर्ट पर प्रत्येक दिन 30 से 40 यात्री विदेश यात्रा कर लौट रहे हैं। हालांकि, इन यात्रियों की पहले नई दिल्ली एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग हो जाती है। जो यात्री दिल्ली आने के बाद अन्य शहरों में चार दिन से अधिक दिन रुक गए थे, उनसे 72 घंटे के भीतर की आरटीपीसीआर की रिपोर्ट मांगी जा रही है।

जिन यात्रियों की एयरपोर्ट पर आरटीपीसीआर जांच की जा रही है। उन्हें होम क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है तथा इसकी नियमित निगरानी की जा रही है। जिला प्रशासन द्वार एयरपोर्ट पर संचालित कोरोना जांच सेंटर में तैनात अधिकारियों का कहना है कि प्रतिदिन औसतन डेढ़ सौ मरीज जांच के लिए सेंटर में आते हैं।

इसमें लगभग 20 प्रतिशत विदेश यात्रा कर लौटे हैं। विदेश यात्रा कर लौटे यात्रियों में से ज्यादातर के पास आरटीपीसीआर रिपोर्ट रहती है लेकिन 72 घंटे से अधिक की होती है। इसीलिए ऐसे यात्रियों की दोबारा आरटीपीसीआर कराई जा रही है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि पटना में लगभग 200 विदेश यात्रा कर लौटे ऐसे यात्री हैं जो होम क्वारंटाइन में हैं। हालांकि, ज्यादातर की जांच रिपोर्ट निगेटिव रहती है। 

वैसे पटना एयरपोर्ट पर आने वाले सभी यात्रियों से आरटीपीसीआर की रिपोर्ट मांगी जा रही है। जिनके पास नहीं होती है उनकी एंटीजन किट से एयरपोर्ट पर ही जांच की जा रही है। अधिकारियों का कहना है कि पिछले एक सप्ताह में पटना एयरपोर्ट पर आए यात्रियों में किसी में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.