ओमिक्रॉन की जांच बिहार में भी होगी… सीएम नीतीश बोले- बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, सतर्क रहें

जानकारी

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि कोरोना के ओमीक्रोन वैरिएंट की जांच बिहार में भी जल्द शुरू होगी। आईजीआईएमएस और अन्य जगहों पर इसकी व्यवस्था की जा रही है। बिहार में अभी ओमीक्रोन से पीड़ित का पता नहीं चला है। इसकी जांच के लिए हमलोगों ने दिल्ली सैंपल भेजा है, जिसकी रिपोर्ट अभी तक नहीं आई है। उन्होंने यह भी कहा कि कई दिन हो गये हैं, रिपोर्ट में देरी होना अच्छी बात नहीं है। सोमवार को जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद वे पत्रकारों से बात कर रहे थे।

एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सही है कि फिर कोरोना संक्रमण राज्य में बढ़ने लगा है। खासकर पटना में अधिक आ रहा है। तीसरी लहर की आशंका को लेकर हमसब सजग हैं और इसके लिए पूरी तैयारी है। सबलोग सक्रिय हैं। हमारा मकसद यही है कि अधिक-से-अधिक जांच कराएं, ताकि कोई पीड़ित हो तो तुरंत पता चले। कोरोना की दूसरी लहर में इलाज के लिए हर व्यवस्था कर दी गई थी, उसी तरह सभी तैयारी है। तीन स्टेज पर पीड़ितों के इलाज की व्यवस्था फिर से होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरे देशों में ओमीक्रोन बढ़ रहा है। यहां कुछ राज्यों में भी बढ़ा है। हमलोगों के यहां तो संक्रमण बहुत नीचे चला गया था। पर कुछ दिनों से फिर इसे देख रहे हैं। यह भी कहा कि बाहर से जो आते हैं उन्हीं में यह मामला दिख रहा है। इसके लिए जांच हो रही है। एयरपोर्ट से लेकर हर जगह पर जांच की व्यवस्था है। सामान्य लोगों में इस तरह का केस नहीं आया है।

एईएस बीमारी को लेकर पूछे गये सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने तो 2019 में ही सोशियो इकोनॉमिक्स सर्वे करा कर एक-एक चीज की जानकारी ली और सभी जगहों पर सुविधा दी। मुजफ्फरपुर के पांच प्रखंडों में यह बीमारी अधिक थी। हम खुद वहां गये और एक-एक जगह देखा। सबके लिए तेजी से काम किया। घर भी बनवाया। 100 बेड का अलग अस्पताल भी बनाया गया। इसके बाद से एईएस का असर कम-से-कम हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.