बीपीएससी एलडीसी परीक्षा में किताब लेकर एग्जाम देने पहुंचे अभ्यर्थियों को विज्ञान-गणित ने उलझाया

जानकारी

बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की निम्न वर्गीय लिपिक (एलडीसी) परीक्षा शनिवार को राज्य के सात जिलों के 117 केंद्रों पर आयोजित हुई। परीक्षा में गणित व विज्ञान के सवालों ने छात्रों को खूब उलझाया। मानसिक क्षमता जांच के प्रश्न भी काफी घुमावदार रहे। बीपीएससी ने अभ्यर्थियों को पुस्तक लेकर आने की इजाजत दी गई थी, लेकिन केंद्रों पर अधिकांश अभ्यर्थी एनसीईआरटी, बीएसईबी, आइसीएसई एवं अन्य बोर्ड के टेक्स्ट बुक की बजाय अन्य तरह की किताब लेकर पहुंचे थे। परीक्षा केंद्रों पर उन्हें बाहर ही जमा करवा दिया गया। कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए शारीरिक दूरी के साथ परीक्षा केंद्रों पर अभ्यर्थियों को बैठाया गया। परीक्षा दोपहर 12 बजे से 02:15 बजे तक आयोजित हुई। डेढ़ घंटा पहले से ही अभ्यर्थियों को केंद्र पर रिपोर्ट करने को कहा गया था।

परीक्षा में अभ्यर्थियों से सामान्य अध्ययन में 50 प्रश्न, सामान्य विज्ञान एवं गणित में 50 प्रश्न, मानसिक क्षमता जांच के लिए 50 प्रश्न पूछे गए। इसमें बिहार से आधारिक कई सवाल पूछे गए। इसमें जय प्रकाश नारायण किस जेल में रखे गए थे? बिहार में कौन-कौन नदी बह रही है? राज्य की भौगोलिक स्थिति क्या है? आदि प्रश्न पूछे गए थे। प्रतियोगी परीक्षा विशेषज्ञ डा. एम रहमान के अनुसार एनसीईआरटी के गहन अध्ययन करने वालों के लिए यह परीक्षा बेहतर रहेगी। उन्हें अब मुख्य परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए। परीक्षा में निगेटिव मार्किंग का प्रावधान रहने के कारण कटआफ लगभग 100 के आसपास होगा।

आयोग के संयुक्त सचिव सह परीक्षा नियंत्रक अमरेंद्र कुमार ने बताया कि परीक्षा में 61 हजार से अधिक अभ्यर्थियों को शामिल होने के लिए प्रवेश पत्र जारी किया गया था, इसमें लगभग 22 हजार अभ्यर्थी ही शामिल हुए। एलडीसी में 24 पद निर्धारित हैं। परीक्षा के लिए सात जिलों में 117 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। परीक्षा पटना, मुजफ्फरपुर, गया, छपरा, भागलपुर, छपरा व नालंदा जिला मुख्यालय में आयोजित की गई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.