अब बिहार में मोबाइल ऐप से होगी मिड-डे मील की निगरानी

खबरें बिहार की

Patna: बिहार में मिडिल और प्राइमरी स्कूल खुलने के बाद मिड-डे मील बांटने को लेकर प्लानिंग की जा रही है। बताया जा रहा है कि मध्याह्न भोजन योजना के क्रियान्वयन और किचेन में सफाई तथा बच्चों को परोसे जाने वाले भोजन की गुणवत्ता की जांच के लिए नियमित रूप में निरीक्षण किया जाएगा।

इतना ही नहीं जो स्कूल काम में बेहतर पाया जाएगा, सरकार उसे पुरस्कृत भी करेगी।अधिकारी होंगे नियुक्त- मिड-डे मील योजना के कार्यान्यवन और निगरानी के लिए शिक्षा विभाग की ओर से अधिकारी नियुक्त किए जाएंगे।

बताया जा रहा है कि ये अधिकारी स्कूलों में जाकर या ऐप के माध्यम से निगरानी करेंगे। साथ ही फीडबैक रिपोर्ट भी बनाएंगे। बिहार में कोरोना काल के बाद स्कूल बंद है। वहीं मिड-डे मील के तहत स्कूलों में अभी भोजन नहीं बनाया जा रहा है ।

बिहार में खुल रहे हैं स्कूल- बिहार में कोविड काल के बाद अगस्त में स्कूल खोलने का ऐलान किया गया था। वहीं पिछले दिनों राज्य सरकार ने सभी स्कूलों में उपस्थिति समान्य करने के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिया था। बिहार में 16 अगस्त के बाद से मिडिल और प्राइमरी स्कूल खुल गए है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.