कोरोना की सही जानकारी व बचाव ही हमें इससे सुरक्षित रखेगी। अब तीन नहीं 9 लक्षणों से कोरोना को पहचानें। घर आए बच्चों व युवाओं में हो रहे किसी तरह के बदलाव को नजरअंदाज नहीं करें। बल्कि, उसपर पैनी नजर बनाए रखें। इस समय पूरा विश्व कोरोना संकट से जुझ रहा है। देश के विकास को गति देने के लिए कई जगहों पर लॉकडाउन में थोड़ ढील दी गयी है। लेकिन, मास्क लगाकर निकलना व सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना आवश्यक है। 

कोरोना के लक्षण जान व पहचान कर खुद के साथ आसपास के लोगों को सुरक्षित व स्वस्थ्य रख सकते हैं। उसके 9 लक्षणों को जानें व सतर्कता से कोरोना को मात दें। कोरोना जंग जीतने के लिए यह आवश्यक है। इसके बारे में हम जितना अधिक जानेंगे, उतना ही अधिक बचाव होगा। 

सीएस डॉ. राम सिंह ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए घरों में ही रहना सबसे असरदार व सुरक्षित उपाय है। बाहर निकलते समय हमेशा सामाजिक दूरी बनाए रखना होगा। इससे अब तक बचाव ही एकमात्र सही तरीका है। बाहर से आए लोगों में हो रहे बदलाव को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। अगर किसी कारण से संक्रमण हो भी जाये, तो क्वारंटाइन में रहकर इससे आसानी से निपटा जा सकता है। पहले मुख्य तीन लक्षणों के आधार पर संदिग्ध की पहचान होती थी। स्क्रीनिंग में भी संबंधित लोगों से इन्ही तीन लक्षणों के बारे में पूछा जाता था। इनमें सर्दी व खांसी, तेज बुखार और सांस लेने में तकलीफ या गले में दर्द प्रमुख लक्षण थे। 

कोरोना के अब ये हैं प्रमुख 9 लक्षण:
1. सर्दी-खांसी, 
2. तेज बुखार, 
3. सांस लेने में तकलीफ या गले में दर्द, 
4. ठंड लगना, 
5. ठण्ड से लगातार कंपकंपी, 
6. मांसपेशियों में दर्द, 
7. सर-दर्द, 
8. गले में खराश 
9. गंध व स्वाद का पता न लगना। 

इन आपातकालीन लक्षणों में भी तुरंत डॉक्टर से साधें संपर्क: 
कोरोना संक्रमण का कोई भी लक्षण दिखे, तो विशेष सतर्कता बरतें। इसमें कुछ आपातकालीन लक्षणों को भी कभी हल्के में न लें। सांस लेने में किसी तरह की तकलीफ, लगातार छाती में दबाव या दर्द महसूस हो, दिमाग में संशय की स्थिति बढ़ जाय, होश खोने लगे या ओंठ एवं चेहरे पर नीलापन आने लगे, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क साधें। इन लक्षणों को हल्के में लेने से तकलीफ और बढ़ सकती है। डॉ. राम सिंह ने कहा कि सामाजिक दूरी अपनाकर और घर में रहकर ही कोरोना संक्रमण की शृंखला को तोड़ा जा सकता है। आम लागों से भी सतर्क रहने की अपील की है।

Sources:-Hindustan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here