एनएमसीएच पटना में कोरोना विस्फोट जारी, 72 और डाक्टर व मेडिकल छात्र हुए संक्रमित

जानकारी

नालंदा मेडिकल कालेज अस्पताल (एनएमसीएच) में सोमवार को तीसरे दिन भी कोरोना विस्फोट जारी रहा। यहां के 153 सीनियर व जूनियर डाक्टरों एवं एमबीबीएस छात्र-छात्राओं की हुई आरटीपीसीआर जांच में 72 की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। यह जानकारी अधीक्षक प्रो. डा. विनोद कुमार सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि तीन दिनों की जांच में अब तक कुल 168 मेडिकल विद्यार्थियों समेत डाक्टरों की रिपोर्ट पाजिटिव प्राप्त हो चुकी है। इनमें से केवल सात संक्रमितों को मदर एण्ड चाइल्ड हास्पिटल में भर्ती किया गया। अधिकांश अपने-अपने घरों एवं छात्रावास में क्वारंटाइन हैं। सभी की हालत बेहतर है। सर्दी, खांसी, बुखार, गले में दर्द जैसी शिकायतें अधिकांश को हैं।

अधीक्षक ने बताया कि सोमवार को पहली खेप में 184 नमूनों की आरटीपीसीआर जांच कराई गई। इनमें से 77 लोगों की रिपोर्ट पाजिटिव मिली। इनमें डाक्टर व विद्यार्थी केवल 23 थे। दूसरी खेप में 113 की जांच की गई। इनमें से 49 डाक्टरों एवं विद्यार्थियों की रिपोर्ट पाजिटिव मिली। अन्य ओपीडी में आने वाले मरीज थे। अधीक्षक ने बताया कि शनिवार को हुई जांच में 12, रविवार को 84 और सोमवार को 72 डाक्टरों व विद्यार्थियों की आरटीपीसीआर जांच पाजिटिव मिली है। सभी के नमूनों को ओमिक्रोन टेस्ट के लिए विभाग के निर्देशानुसार आइजीआइएमएस पटना अथवा दिल्ली स्थित लैब भेजा जाएगा।

 

एक दिन पहले मिले थे 84 संक्रमित


 

बता दें कि रविवार को अस्पताल परिसर में विशेष जांच शिविर लगाकर 194 डाक्टरों की जांच कराई गई थी। इसमें 84 की रिपोर्ट पोजिटिव मिली थी। इसे देखते हुए सोमवार से एमबीबीएस वर्ष 2019 की शुरू होने वाली परीक्षा को अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया था। प्राचार्य डा. हीरा लाल महतो ने बड़ी संख्या में डाक्टरों के संक्रमित होने पर मंगलवार त्राहिमाम बैठक बुलाई है। वहीं शनिवार को अस्पताल के 69 डाक्टरों की हुई आरटीपीसीआर जांच में 12 संक्रमित पाए गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.