बगावत और टूट-फूट की खबरों के बीच फ्लोर पर नीतीश की ‘अग्नि परीक्षा’ आज

खबरें बिहार की राजनीति

बिहार में राजनीतिक हचलच चरम पर है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विधानसभा में आज बहुमत साबित करेंगे। एनडीए का दावा है कि उसे 131 विधायकों का समर्थन प्राप्त है।नीतीश कुमार का आज 11 बजे प्लोर टेस्ट होगा लेकिन इस दौरान विभिन्न दलों में टूट-फूट की खबरें जोरों पर हैं। केरल जदयू इकाई ने नीतीश के एनडीए के साथ जाने के फैसले की निंदा की है। केरल से राज्यसभा सांसद विरेंद्र कुमार ने कहा कि वो एनडीए का हिस्सा नहीं बन सकते हैं और फैसले के खिलाफ हैं।

उधर, जदयू के पूर्व अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद शरद यादव की अगुवाई में गुरुवार शाम बैठक हुई जिसमें सांसद अली अनवर, सांसद विरेंद्र कुमार, जदयू के महासचिव अरुण श्रीवास्तव समेत दूसरे नेताओं ने हिस्सा लिया।
बैठक के बाद जदयू नेता अरुण श्रीवास्तव ने कहा कि शरद यादव चिंतित हैं। फैसला लेते वक्त किसी पार्टी पदाधिकारी से बात नहीं की गई है। वो दो दिनों के अंदर पार्टी के नेताओं से बात कर अपनी स्थिति स्पष्ट करेंगे। उन्होंने कहा कि शरद यादव का रास्ता अलग भी हो सकता है।
जबकि सांसद अली अनवर ने भी कहा कि दो दिनों में पार्टी के नेताओं को बुलकर शरद यादव बात करेंगे। पार्टी नेताओं से बात करने के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। हालांकि मैं व्यक्तिग तौर पर एनडीए से गठबंधन करने के पक्ष में नहीं हूं।
उधर, जदयू के अलावा राजद में भी फूट की खबर है। मुजफ्फरपुर के गायघाट के राजद विधायक ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने मोर्चा खोल दिया हैं। महेश्वर प्रसाद यादव ने साफ कहा है कि हमलोग नहीं चाहते थे कि महागठबंधन टूटे लेकिन लालू प्रसाद ने पुत्र मोह में महागठबंधन टूट गया।
इसके अलावा कांग्रेस खेमे से भी कई लोगों दल बदलने की खबर आ रही है लेकिन इसकी कोई फिलहाल पुष्टि नहीं हो पा रही है। बिहार कांग्रेस के प्रदेश के अध्यक्ष अशोक चौधरी के जदयू की शामिल होने की खबर गुरुवार को उड़ने लगी है हालांकि उन्होंने इस बात से साफ इनकार कर दिया है।
आपको बता दें कि बिहार की 243 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत के लिए 122 विधायकों की जरूरत होती है। दलगत स्थिति की बात करें तो बीजेपी- 53, जेडीयू -71 विधायक हैं ऐसे में अगर दोनों पार्टियां साथ आती हैं तो बिहार में फिर से एनडीए की सरकार बन सकती है।
किस पार्टी के हैं कितने विधायक ?
जेडीयू-71, बीजेपी-53, राजद-80, कांग्रेस 27, रालोसपा- 2, लोजपा-2 हम- 1, माले-3, निर्दलीय पांच

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *