नीतीश सबसे बड़े समाजवादी…मोदी की सराहना पर लालू नाराज, बोले-बेटा राजनीति में आना ही नहीं चाहता

राजनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सबसे बड़ा समाजवादी नेता कहे जाने के बाद बिहार की राजनीति को नया मुद्दा मिल गया है।

प्रधानमंत्री मोदी के इस ताजा बयान के बाद जहां राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक जनता दल यूनाइटेड (जदयू) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सभी नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तारीफ में कसीदे गढ़ रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने प्रधानमंत्री के इस बयान पर नाराजगी जाहिर की

 

राजद अध्यक्ष ने शुक्रवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में बगैर किसी का नाम लिए कहा कि उनके बच्चे नहीं है इसलिए वह ऐसा कह रहे हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुत्र राजनीति में नहीं आना चाहता है, वह पूरी तरह से दूसरी राह पर है।

 

 लालू ने प्रधानमंत्री के कुछ पार्टियों पर परिवारवाद को बढ़ावा देने वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि उनका कोई बेटा नहीं है। यहां तक  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का एक बेटा है लेकिन वह राजनीति में आना नहीं चाहता है।

 

उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि अब जब उनके साथ ऐसी स्थिति है तो क्या कहेंगे। उन्होंने कहा कि वह भगवान से प्रार्थना करते हैं कि इन लोगों को बाल-बच्चा दे और वह राजनीति में आये।

इस मौके पर विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को समाजवादी बताए जाने पर कहा कि कौन झूठ बोल रहा है कौन सच सब जानते हैं। पहले प्रधानमंत्री यह बताएं कि उन्होंने ही कहा था कि जदयू दमनकारी पार्टी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा को बड़का झूठा पार्टी बताया था।

 

तेजस्वी ने सवालिया लहजे में कहा कि सच क्या है पहले वाले मोदी या अब वाले मोदी। इसी तरह कौन सही है पहले वाले नीतीश कुमार या अब वाले नीतीश कुमार पहले फैसला करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.