राष्ट्रपति चुनाव का असर बिहार की सियासत पर- महागठबंधन पर ले सकते हैं नितीश बड़ा फैसला

राजनीति

राष्ट्रपति पद के लिए नीतीश कुमार के राजग उम्मीदवार का समर्थन करने पर तनातनी के बीच बिहार में बदले सियासी हालात पर विचार के लिए मुख्यमंत्री ने पार्टी की बैठक बुलाई है।

सूत्र बताते हैं कि पार्टी नेताओं से विचार-विमर्श के बाद नीतीश गठबंधन पर कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। कोविंद को नीतीश के समर्थन पर लालू यादव के ऐतिहासिक भूल वाले बयान पर पलटवार करते हुए नीतीश ने कहा कि अगर कोई कहता है कि हम राजनीतिक भूल कर रहे हैं, तो करने दीजिए, हमें छोड़ दीजिए।

जनता दल (यू) ने अगले माह 2 जुलाई को राज्य कार्यकारिणी और 9 जुलाई को राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई है। ऐसे में माना जा रहा है कि राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राज्य में महागठबंधन में उत्पन्न मतभेद को लेकर नीतीश इसके भविष्य को लेकर कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं।

विपक्षी दलों से अलग लाइन लेकर राष्ट्रपति पद के लिए एनडीए उम्मीदवार को समर्थन पर नीतीश ने कहा कि कोविंद को लेकर हमारी राय साफ है। मैं कोविंद को संघ की पृष्ठभूमि का नहीं मानता।

Leave a Reply

Your email address will not be published.