बिहार के दलितों के लिए नीतीश ने खोला खजाना, UPSC-BPSC की PT निकालने पर मदद का एलान

खबरें बिहार की

पटना:  बिहार सरकार ने आज मंगलवार 8 मई को कैबिनेट में कई बड़े फैसले लिए हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में बिहार के महादलित परिवारों को बड़ा लाभ देने की घोषणाएं की गई हैं. बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसलों में UPSC और BPSC की परीक्षाओं में सफल कैंडिडेट्स को सरकार ने सहायता देने का फैसला किया है.

बिहार सरकार अब SC-ST कैंडिडेट्स को UPSC की PT परीक्षा में सफल होने पर एक लाख रूपये, तो वहीं BPSC की PT परीक्षा में सफल होने पर 50 हजार रूपये की सहायता देगी.

बिहार कैबिनेट के अन्य फैसलों में अब राज्य सरकार के महादलित विकास मिशन की योजनाओं का लाभ अब सभी SC और ST वर्ग के लोगों को मिलेगा. इससे पहले इस योजना का लाभ केवल महादलित परिवारों को मिलता था.

मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए कहा कि बिहार में अब SC-ST, अल्पसंख्यक, पिछड़ा और अतिपिछड़ा वर्ग के वैसे छात्र जो हॉस्टल में रहते हैं, उन्हें प्रति माह 15 किलो अनाज दिया जाएगा. इस अनाज की खरीद से लेकर हॉस्टल तक पहुंचाने का सारा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी.

बिहार कैबिनेट द्वारा लिए गए अन्य फैसले हैं –

  • गृह विभाग की विशेष शाखा में 437 पदों के सृजन की अनुमति दी गई है. इनमें ASP, DSP और इंस्पेक्टर समेत कार्यालय के भी पद शामिल हैं.

 

  • राज्य के चीनी मीलों को आर्थिक पैकेज के तौर पर ईख क्रय कर की अदायगी से छूट प्रदान की गई है.

 

  • नालंदा के राजगीर मलमास मेला को राजकीय मेला का दर्जा दिया गया है.

 

  • पासवान जाति को मिला महादलित का दर्जा.

 

  • इसके अलावा लघु जल संसाधन विभाग, पशु एवं मत्सय संसाधन विभाग, राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग, गन्ना उद्योग विभाग, वित्त विभाग और पंचायती राज विभाग समेत 16 एजेंडों पर फैसला लिया है.

Source: live cities news

Leave a Reply

Your email address will not be published.