क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है – ये बात जम सभी ने कभी कभी जरूर सुनी होगी पर इसबार के वर्ल्ड कप फाइनल में जैसी अनिश्चितता और रोमांच देखने को मिला, उसका इंतजार हर क्रिकेट फैन को होता है।

अब 4 साल बाद अगला क्रिकेट वर्ल्ड कप देखने को मिलेगा, जिसे भारत में आयोजित किया जाएगा। दिलचस्प बात यह है कि यह पहली बार होगा जब भारत अकेले वर्ल्ड कप की मेजबानी करेगा। 1987, 1996 और 2011 में भारत ने क्रमशः श्रीलंका, पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ वर्ल्ड कप की सह-मेजबानी की थी,लेकिन बाद में अधिकारियों ने सह-मेजबानी से पाकिस्तान को हटा दिया। यह फैसला 2009 में लाहौर के लिबर्टी चौक पर श्रीलंकाई टीम की बस पर एक हमले के बाद लिया गया था।

1975 में पहला क्रिकेट वर्ल्ड कप इंग्लैंड में खेला गया। इसमें 60 ओवर के मैच खेले गए। इंग्लैंड से बाहर पहली बार 1987 में भारत और पाकिस्तान ने संयुक्त रूप से टूर्नामेंट की मेजबानी की। तब खेल के ओवर 60 से कम करके 50 किए गए, क्योंकि इंग्लैंड की तुलना में भारतीय उपमहाद्वीप में दिन छोटे होते थे। इंग्लैंड ने वर्ल्ड कप की सबसे ज्यादा 5 (1975, 1979, 1983, 1999 और 2019) बार मेजबानी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here