इन घरेलु उपायों से रोकें बालों का झड़ना, सिर पर आएंगे नए बाल

Health

आजकल बालों का टूटना, गिरना और झड़ना एक आम समस्या है. लेकिन कई बार हार्मोन स्तर में आकस्मिक बदलाव, शिशु के जन्म के बाद कमज़ोरी, महिलाओं में कैल्शियम की कमी और किसी बीमारी की वजह से अकसर ये समस्या ज्यादा बड़ी हो जाती है. जिसकी वजह से लोग गंजेपन का शिकार होने लगते हैं. इसका जल्द से जल्द इलाज करना बहुत जरूरी होता है. आजकल लोगों की जीवनशैली और खान-पान इतनी बुरी हो गई है कि इसका सीधा असर बालों पर पड़ता है. ऊपर से प्रदूषण और हेयर प्रोडक्ट के केमिकल के कारण भी बालों पर असर पड़ता है, जो बाद में बालों के झड़ने का कारण बन जाता है. आप बालों से झड़ने से संबंधित समस्या के लिए घरेलू नुस्ख़ों को आजमा सकते हैं. बाल अगर आम कारणों से झड़ रहा है तो घरेलू नुस्ख़े बहुत काम आते हैं.

ऑइलिंग

कोई भी प्राकृतिक तैल जैसे, ऑलिव ऑयल, नारियल का तेल या कनोला ऑयल लें. इसको हल्का गर्म करके इस तैल से अपने स्कैल्प में रोज मसाज करें. मसाज के बाद सिर पर एक शॉवर कैप पहन लें और इसे करीब एक घंटे बाद शैंपू से धो लें. बालों को झड़ने से रोकने के उपाय के रूप में तेल से इलाज करना बहुत ही फायदा पहुंचाता है.

स्कैल्प मसाज

हर दिन बिना तैल लगाए भी कुछ मिनटों के लिए सिर की मसाज करना चाहिए, इससे सिर में रक्त प्रवाह तेज करने में मदद मिलती है साथ ही केश कूप भी सक्रिय रहते है. सिर का मसाज सही तरीके से करने पर बालों का झड़ना रोक सकते हैं.

ग्रीन टी

ग्रीन टी को बाल झड़ने की दवा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। ग्रीन टी को एक कप पानी में मिलाकर अपने सिर में लगा लें और इसे करीब एक घंटे तक छोड़ दें। ग्रीन टी में एन्टीऑक्सिडेंट होता है जो बालों झड़ने से रोकने में मदद करते हैं। ग्रीन टी पीकर नहीं इसका इस्तेमाल करके बालों का झड़ना रोक सकते हैं। बालों को झड़ने से रोकने में ग्रीन टी का इलाज बहुत असरदार तरीके से काम करता है।

मुलेठी- केसर

बालों को वापस लाने और गंजापन दूर करने के लिए आप मुलेठी की मदद ले सकते हैं. इसके लिए आप थोड़ी सी मुलेठी लें और इसमें दूध की कुछ बूंदे डालें, साथ ही एक चुटकी केसर भी डाल लें. फिर इसको पीसकर बारीक पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को रात में सोने से पहले अपने सिर पर लगायें और सुबह शैम्पू कर लें.

केला-नींबू

एक केले को लेकर इसको अच्छी तरह से मैश कर लें फिर इसमें कुछ बूंदें नींबू के रस की मिला लें. इसके बाद इस पेस्ट को हेयर कलर ब्रश की मदद से सिर पर लगाकर कुछ घंटों के लिए छोड़ दें, फिर शैम्पू कर लें. इससे बालों का झड़ना भी कम होता और बाल फिर से उगने लगते हैं.

प्याज

प्याज को छीलकर बीच से दो हिस्सों में काट लें. इसके बाद प्याज को सिर में उस जगह पर धीरे-धीरे रोजाना पांच-सात मिनट तक रगड़ें जहां से बाल ज्यादा झड़ रहे हैं. इससे बालों का झड़ना भी बंद होगा और नए बाल भी आने लगेंगे.

नमक और काली मिर्च

पिसा हुआ नमक व काली मिर्च 1-1 चम्मच नारियल का तेल पांच चम्मच मिलाकर गंजेपन वाले स्थान पर लगाने से बाल आ जाते है। माने या न माने बालों का झड़ना रोकने में ये तरीका काम आता है लेकिन इंसान के प्रकृति पर भी निर्भर करता है।

आंवला-नीम

थोड़ा सा आंवले का पाउडर और नीम की पत्तियों को पानी में अच्छी तरह से उबाल लें. इस पानी से हफ्ते में दो बार अपने सिर को धोयें. इससे बालों का झड़ना भी रुक जायेगा और नये बाल भी उगने लगेंगे.

हरा धनिया

बालों का झड़ना रोकने के लिए और नए बाल उगाने के लिए आप हरा धनिया भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए आप हरा धनिया को बारीक पीसकर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को अपने सिर पर लगाकर कुछ घंटों के लिए ऐसे ही छोड़ दें फिर शैम्पू कर लें. कुछ दिनों में नए बाल आने लगेंगे.

परवल

बाल झड़ने से रोकने के लिए क़ड़वे परवल के पत्तों को पीसकर रस निकालें और उसको सिर पर लगाये यह प्रयोग 2-3 माह तक करने से बालों का झ़ड़ना धीरे-धीरे बिल्कुल बन्द हो जाता है और गंजापन भी दूर हो जाता है। गंजापन रोकने का इलाज कारगर कितना होगा ये इंसान पर निर्भर करता है।

कलौंजी

कलौंजी का इस्तेमाल भी आप बालों को झड़ने से रोकने और नए बाल उगाने के लिए कर सकते हैं. इसके लिए कलौंजी को पीसकर पाउडर बना लें. फिर इस पाउडर को पानी में मिलाकर इस पानी से अपने सिर को धोयें. कुछ ही दिनों में बालों का झड़ना कम होने लगेगा और सिर पर नए बाल भी उगने शुरू हो जायेंगे.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.