नए राज्यपाल लालजी टंडन ने CM नीतीश के बारे में कहा ये, अटल के थे खासमखास

खबरें बिहार की

पटना: बिहार के नवनियुक्त राज्यपाल लालजी टंडन का लंबा सियासी अनुभव रहा है। दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी के खासमखास माने जाते थे लालजी टंडन।

राज्यपाल नियुक्त होने के बाद लालजी टंडन ने प्रतिक्रिया देते हुए सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शुक्रिया अदा किया। उन्होंने कहा कि वे बिहार में गार्जियन की भूमिका निभाएंगे, साथ ही बिहार के विकास में वे पूरा जोर लगाएंगे।

लालजी टंडन ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपना पुराना दोस्त बताया। साथ ही उम्मीद जाहिर की कि सरकार से किसी तरह के टकराव की आशंका नहीं होगी। एनडीए की सरकार रहते टंडन की ये उम्मीद सही ठहराई जा सकती है। लालजी टंडन की नीतीश सरकार से अच्छी ट्यूनिंग होगी। वहीं दिक्कत ये है कि बिहार में विपक्ष काफी आक्रामक है। सरकार की गलतियों पर विपक्ष राज्यपाल के हस्तक्षेप की मांग करता रहेगा।

लालजी टंडन का परिचय

लखनऊ में 12 अप्रैल 1935 को लालजी टंडन का जन्म हुआ था। इनके पुत्र गोपाल जी टंडन इस वक्त यूपी सरकार में मंत्री हैं। लालजी टंडन ग्रैजुएट हैं।

जवानी के दिनों से ही लालजी टंडन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ गए थे। इसी मंच पर इनकी मुलाकात और बाद में अटल बिहारी वाजपेयी से दोस्ती हुई।

बीते पचास सालों तक टंडन और वाजपेयी का घनिष्ठ नाता रहा। वाजपेयी के निधन के बाद लालजी टंजन बेहद भावुक थे। अब राज्यपाल के तौर पर जिम्मेदारी निभाते हुए व्यवस्तता के वजह से ये अपना जी हल्का कर सकेंगे।

लालजी टंडन ने राजनीतिक सफर पार्षद से शुरु किया फिर सांसद भी बने। वाजपेयी का गहरा प्रभाव लालजी टंडन के व्यक्तित्व पर देखा जा सकता है। खुद टंडन भी मानते हैं कि अटल बिहारी वाजपेयी उनके भाई, साथी और पिता भी थे।

लालजी टंडन 1978-84 तक फिर 1990 से 1996 तक एमएलसी रहे। यूपी सरकार में वे मंत्री भी रहे। तीन बार वे एमएलए भी चुने गए। लालजी टंडन उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष की भूमिका भी निभा चुके हैं।

अटल बिहारी वाजपेयी की लखनऊ संसदीय सीट लालजी टंडन को ही दी गई थी। जहां से जीतकर लालजी संसद भी पहुंचे।

बिहार के विकास के लिए प्रतिबद्ध लालजी टंडन के लिए नई जिम्मेदारी चुनौतीपूर्ण होगी। बिहार के मौजूदा हालात में विपक्ष काफी आक्रामक है।

Source: Hindi.sakshi.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.