NEET TOPPER कल्पना ने कहा- बचपन का सपना हुआ पूरा

एक बिहारी सब पर भारी प्रेरणादायक

पटना। बिहार के शिवहर जिले की रहने वाली कल्पनी कुमारी ने NEET 2018 में टॉप कर पूरे देश में जिले का नाम रौशन किया है। कल्पना ने कहा कि बचपन से उनका सपना था कि वह मेडिकल क्षेत्र में जाए और उन्हें पूरी उम्मीद है कि वह जल्द ही अपना सपना पूरी करेंगी।
कल्पना ने CBSE द्वारा आयोजित NEET 2018 में 99.99 पर्सेंटाइल के साथ टॉप रैंक हासिल की है। कल्पना के सभी विषयों के मार्क्स मिलाकर कुल स्कोर 720 में से 691 रहा है। इस साल NEET 2018 का रिजल्ट अपने तय दिन से एक दिन पहले आ गया, जिसमें 7,14,562 स्टूडेंट्स सफल हुए हैं।

13 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स शामिल हुए
इस साल की टॉपर रहीं कल्पना ने फिजिक्स में 180 में 171 अंक मिले जबकि केमेस्ट्री में 180 में 160 और बायोलोजी में 360 में 360 अंक हासिल किए। NEET की परीक्षा इस साल 6 मई को आयोजित की गई थी, जिसमें 13 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स शामिल हुए थे।

मेहनत ही है कामयाबी की चाबी

ईटीवी भारत से एक्सक्लुसिव बातचीत में कल्पना ने बताया कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि वह NEET एग्जाम में टॉप करेंगी। उनकी कठिन मेहनत आखिरकार रंग लाई और वह सफल हुई।

हर दिन 12 से 13 घंटे पढ़ाई करती थी
कल्पना ने कहा कि वह हर दिन 12 से 13 घंटे पढ़ाई करती थी। वह एनसीईआरटी की किताबों के साथ कोचिंग द्वारा दिए गए मैटेरियल पढ़ती थी। बता दें कि कल्पना ने दिल्ली के आकाश इंस्टीट्यूट से पढ़ाई की है।

बचपन का सपना हुआ पूरा
कल्पना ने कहा कि उनका बचपन से सपना था कि वो चिकित्सा के क्षेत्र में काम करें और उन्हें उम्मीद है कि जल्द वह अपना सपना पूरा कर लेंगी। बता दें कि कल्पना के पिता लेक्चरर हैं और मां शिक्षक है। उनकी बहन इंजिनियरिंग सर्विसेस में और एक भाई आईआईटी गुवाहाटी में है।

विफलता का करें सामना
इस परीक्षा में जो बच्चे अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाएं हैं उनके लिए कल्पना ने कहा कि परीक्षा का परिणाम अपने हाथ की बात नहीं है, इसलिए बजाए हिम्मत हारने के अपने लक्ष्य के प्रति मजबूत इरादा रखना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *