NDA के ‘बड़े भाई’ JDU को चाहिए 40 में से 25 सीट

राजनीति

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आवास पर हुई जेडीयू की कोर कमेटी की बैठक के बाद बिहार एनडीए में जदयू को सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर रखने का ऐलान किया है। जिसके बाद सियासी पारा गर्म हो गया है और अब पार्टी प्रवक्ता अजय आलोक ने 40 में से 25 सीटों पर दावा कर इसे और हवा दे दी है।

जेडीयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा है कि राज्य में सीटों के बंटवारे को लेकर एनडीए गठबंधन के दलों में कोई भ्रम नहीं है। उन्होंने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार ही एनडीए गठबंधन का चेहरा होंगे और स्थिति बिल्कुल स्पष्ट है कि यहां जेडीयू 25 सीटों पर और बीजेपी 15 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। हालांकि कुछ और दल हैं तो पार्टी के शीर्ष नेता तय करेंगे कि उन्हें कितनी सीट देनी है।

आपको बता दें कि जेडीयू की कोर कमेटी की बैठक के बाद ये फैसला किया गया है कि लोकसभा चुनाव में बिहार से एनडीए का चेहरा नीतीश कुमार ही होंगे। इस बैठक में सभी नेताओं ने एक मत से माना कि जेडीयू बिहार एनडीए में सबसे बड़ा दल है और नीतीश कुमार सबसे बड़ा चेहरा हैं।

बैठक में ये भी तय हुआ कि हम अपने जीएसटी और विशेष राज्य के दर्जे के मुद्दे पर कायम हैं और इस मुद्दे से कतई पीछे नहीं हट सकते। नीतीश कुमार ने विशेष राज्य के मुद्दे पर अपनी बात मजबूती से रखी थी और वित्त आयोग को पत्र लिखा था।

गौरतलब है कि 7 जून को पटना के ज्ञान भवन में एनडीए का महासम्मेलन आयोजित हो रहा है। ऐसे में ठीक 3 दिन पहले जेडीयू के इस तेवर से बिहार की सियासत गरमा गई है।

Source: etv bihar

Leave a Reply

Your email address will not be published.