Nazir JDU

Nazir | जदयू नेता का नाम आया 1000 करोड़ के सृजन घोटाला में, रातों रात अरबपति बन गांव में बनाया 26 कमरों का बंगला

खबरें बिहार की

सृजन घोटाला मामले में ईओयू और जिला पुलिस की टीम ने रविवार रात को जगदीशपुर थाना क्षेत्र के पिस्ता गांव स्थित कल्याण विभाग के Nazir महेश मंडल घर पर छापेमारी की। पुलिस ने नाजिर को हिरासत में ले लिया है।

एसएसपी मनोज कुमार और ईओयू के एसपी राशिद जमा Nazir से पूछताछ कर रहे हैं। उधर, नाजिर के परिजनों से पहले तो छापेमारी के विरोध कर दिया, लेकिन पुलिस की सख्ती के आगे परिजनों की एक ना चली।

नाजिर का पुत्र शिव कुमार जिला परिषद का सदस्य है और यदि जदयू युवा मोर्चा का जिला अध्यक्ष है। शुरुआती जांच में नाजिर के सृजन संस्था से संबंध की बात सामने आई है। कल्याण विभाग से भी भारी राशि सृजन के खाते में ट्रांसफर हुई है इसमें नाजिर महेश मंडल की भूमिका संदिग्ध मानी जा रही है।




पुलिस को शक है कि Nazir ने संस्था की मदद से आय से अधिक संपत्ति अर्जित की है। छापेमारी के दौरान नाजिर के घर से बैंक अकाउंट, जमीन, खेत आदि के कागजात मिले हैं। पुलिस नाजिर के जिला परिषद बेटे की भी कुंडली खंगाल रही है।

Nazir JDU




उल्लेखनीय है कि कल्याण विभाग में हुए सरकारी राशि के घोटाला मामले में कोतवाली थाने में केस दर्ज कराया गया है। पुलिस की जांच में आया है कि कल्याण विभाग के अकाउंट के खाते का फर्जी अपडेट और स्टेटमेंट ऑफ अकाउंट नाजिर ही लाकर विभाग को देता था।

महालेखाकार की ऑडिट में भी फर्जी खाता अपडेट और जाली बैंक स्टेटमेंट का पता नहीं चला था। Nazir के घर के अलावे मुख्य सड़क स्थित उनके पुत्र जिप सदस्य के ऑफिस में भी पुलिस ने छापेमारी की। देर रात तक छापेमारी जारी थी।



8 साल में अरबपति हुए Nazir

युवा जदयू के जिला अध्यक्ष और जिला परिषद सदस्य शिव मंडल के पिता नाज़िर यूं तो कल्याण विभाग में लंबे समय से हैं। लेकिन उनका उत्थान 7-8 साल पहले ही बताया जा रहा है। पिस्ता गांव में सालों पहले वे दो मंज़िल के पुश्तैनी मकान में रहते थे।

इनमें उनके नाज़िर पिता महेश मंडल और दिनेश मंडल दोनों के परिवार रहते थे। आठ साल पहले नाज़िर महेश ने इस मकान के पास ही आधा बीघा जमीन पर 26 कमरों का आलीशान मकान बनवाया। बाथरूम तक में एसी लगा था।



Nazir को विरासत में मिली थी नौ बीघा जमीन, शाहकुंड में अब 45 बीघा जमीन

बताया जा रहा है कि Nazir महेश मंडल ने पिछले 8 साल में ही काफी ज़मीन भी खरीदी। विरासत में उन्हें नौ बीघा जमीन मिली थी। लेकिन आठ साल पहले उन्होंने शाहकुंड में 45 बीघा जमीन खरीदी। पिस्ता गांव में भी टुकड़ों में 15 बीघा जमीन की जानकारी बताई जा रही है। इतना ही नहीं, कटिहार में भी प्लॉट खरीदने की बात सामने आ रही है।
शिव कुमार ने 8 साल पहले ही 5 ट्रक खरीदे। 10 पहिये वाले इस ट्रक के साथ ही वे ट्रांसपोर्ट लाइन में आ गए।
घर में चार फोर व्हीलर और आठ मोटरसाइकिल




नाज़िर महेश मंडल के घर में वाहनों की लंबी फेहरिस्त भी है। नाज़िर महेश के 3 बेटे हैं। दिनेश की एक बेटी और 3 बेटे हैं। इन सबके लिए घर में चार फोर व्हीलर और आठ मोटरसाइकिल भी हैं। इनमें 95 हज़ार रुपये तक की महंगी बाइक भी है।

उधर नाजिर से पूछताछ में पुलिस को अहम जानकारी हाथ लगी है। नाजिर ने कल्याण विभाग की सरकारी राशि से जुड़े हेराफेरी में कुछ नामों का खुलासा भी किया है। हालांकि पुलिस अभी इस बारे में कुछ नहीं बता रही है।



















Nazir JDU



Leave a Reply

Your email address will not be published.