नवरात्रि की शुरुआत से पहले गंगा घाटों पर लगी भीड़, कलश स्थापना के लिए दूर-दूर से आए श्रद्धालु

खबरें बिहार की जानकारी

आश्विन की अमावस्या पर पितृ विसर्जन के बाद मां दुर्गा पूजा की कलश स्थापन को लेकर रविवार को झमटिया घाट पर गंगा स्नान करने व गंगा जल भरने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। श्रद्धालुओं की भीड़ के चलते स्नान घाट पर सुबह से ही जगह कम पड़ गई है। झमटिया ढाला के समीप एनएच 28 जाम की स्थिति बनी हुई है। झमटिया ढाला व स्नान घाट के बीच सड़क पर भारी मेला सा नजारा बन गया है। वहीं सिमरिया घाट पर भी गंगानदी में गंगा स्नान के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। रविवार को गंगा स्नान के लिए बेगूसराय के स्थानीयों के अलावा मिथिलांचल क्षेत्र के दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर और पटना, लखीसराय, जमुई व पड़ोसी देश नेपाल से भी सैकड़ो श्रद्धालु सिमरिया गंगातट पहुंच रहे हैं। गंगा स्नान के दौरान श्रद्धालुओं को डूबने से बचाने के लिए गोताखोरों की टीम गंगानदी में गश्ती कर रही है।

श्रद्धालुओं ने बताया कि वे कल यानी 26 सितंबर को कलश स्थापना के साथ ही मां दुर्गा की पूजा- आराधना शुरू करेंगे। कलश स्थापन को लेकर गंगाजल भरने व गंगोट मिट्टी लेने श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी है।

श्रद्धालुओं ने कहा कि गंगोट मिट्टी पर ही कलश स्थापित करने की परंपरा चली आ रही है। गंगा स्नान व गंगा जल भरने यहां बड़ी संख्या में दूरदराज के श्रद्धालु सड़क व रेल मार्ग से पहुंच रहे हैं। श्रद्धालुओं में सिमरिया धाम में गंगाजल भरने और नवरात्रि की शुरुआत से पहले गंगा स्नान करने की पुरातन मान्यता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.