नेशनल लेवल का पहला पटना मैराथन 17 दिसंबर को, दौड़ेगा पटना तो मिलेगा 10 लाख का इनाम

खबरें बिहार की

पटना : राष्ट्रीय स्तर का पहला पटना मैराथन 17 दिसंबर रविवार को होगा। जिला प्रशासन ने इसकी तैयारी अपने स्तर से शुरू कर दी है। बिहार सरकार के मुख्य सचिव और कला संस्कृति एवं युवा विभाग के सचिव को पटना मैराथन कराने के संबंध में डीएम संजय कुमार अग्रवाल ने प्रस्ताव भेजा है। इसके पहले हुई बैठक में मैराथन कराने वाली कंपनी ने 10 दिसंबर को पटना मैराथन कराने का प्रस्ताव रखा था। इसमें संशोधन करते हुए यह प्रस्ताव भेजा गया है। पटना मैराथन का मुख्य कार्यक्रम गांधी मैदान में प्रस्तावित है।

देना होगा रजिस्ट्रेशन शुल्क : पटना मैराथन में भाग लेने वालों को शुल्क के साथ रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके लिए अलग से रजिस्ट्रेशन काउंटर खोला जाएगा। ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। फुल मैराथन में जो भाग लेना चाहेंगे उन्हें 1,000 रुपये और हॉफ मैराथन में जो भाग लेंगे उन्हें 900 रुपये देने होंगे। वहीं जो 10 किमी के लिए 800 व 4 किमी वाले मैराथन में 200 रुपये देने होंगे। कंपनी की ओर से मैराथन में शामिल होने वालों को एक टी शर्ट, मेडल और स्नैक्स मिलेगा।

फुल और हॉफ मैराथन सुबह छह बजे शुरू होगा। गांधी मैदान से शुरू होकर फ्रेजर रोड, बेली रोड, इको पार्क, राजभवन होते हुए बेली रोड से शेखपुरा मोड़ तक और फिर वहां से वापस गांधी मैदान का रूट तैय किया गया है। फुल मैराथ में शामिल होने वालों को उक्त रूट पर दो बार दौड़ लगानी होगी। 10 किमी के मैराथन के लिए गांधी मैदान से इको पार्क और यहां से वापस गांधी मैदान आना होगा। वहीं 4 किमी वाले में गांधी मैदान से आयकर गोलंबर और यहां से वापस गांधी मैदान लौटना होगा।

पटना मैराथन में भाग लेने वाले धावकों को कुल 10 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा। यह राशि चार कैटेगरी में प्रथम, द्वितीय और तीसरा स्थान प्राप्त करने वालों को दिया जाएगा। इसमें 10 हजार लोगों का रजिस्ट्रेशन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.