आज है नाग पंचमी, ये उपाय करने से कुंडली में हर दोष से मिलेगा छुटकारा

आस्था

सावन का महीना पूर्ण रूप से भगवान शिव को समर्पित होता है और सावन के महीने का सबसे प्रमुख त्योहार नाग पंचमी को माना गया है. आज 13 अगस्त है. आज नाग पंचमी है. ये पर्व भगवान शिव और नाग देवता से संबंधित होता है और इस दिन माना गया है कि नाग देवता की पूजा करके कोई भी व्यक्ति न केवल अपने सभी पापों से मुक्ति पाता है, बल्कि इससे वे व्यक्ति भगवान शिव का भी आशीर्वाद प्राप्त करने में सफल रहता है. आज शुक्रवार है. शुक्रवार को माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है. माता लक्ष्मी की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि आती है और धन की वर्षा होती है.

नाग पंचमी का उल्लेख आपको कई पौराणिक शास्त्रों में भी मिल जाएगा. उन्हीं में से कई धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, जो भी व्यक्ति इस विशेष दिन नागदेव की पूजा करता है तो उसे अपनी कुंडली में मौजूद राहु और केतु से संबंधित हर प्रकार के दोष से तो मुक्ति मिलती ही है, साथ ही वह व्यक्ति काल सर्प दोष से भी मुक्ति पाने में सफल रहता है. इसके अलावा वैदिक ज्योतिष में भी, जातक को सांप का डर और सर्पदंश से मुक्ति दिलाने के लिए भी, नाग पंचमी के दिन कालसर्प योग के निवारण हेतु पूजा-अनुष्ठान किए जाने का विधान है. ऐसे में इस नागपंचमी के दिन, आप भी अपनी राशि के अनुसार पूजा और उपाय कर राहु-केतु एवं कुंडली में मौजूद हर प्रकार के कालसर्प योग के अशुभ प्रभाव को दूर कर, भगवान शिव का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं.

इस नागपंचमी आप अपनी राशि अनुसार करें ये उपाय…

मेष राशि
मेष राशि के जातकों को राहु ग्रह से संबंधित हर दोष को दूर करने के लिए नागपंचमी पर “रुद्राष्टाध्यायी” का पाठ करने की सलाह दी जाती है.

वृषभ राशि
वृषभ राशि के जातकों को इस नागपंचमी पर, एक तांबे का टुकड़ा बहते हुए जल में प्रवाहित करना बेहद शुभ सिद्ध होगा.

मिथुन राशि
आपको इस दिन गरीबों और ज़रूरतमंदों में हरी मूंग की दाल दान करनी चाहिए व अपनी कुंडली में राहु को बली बनाने के लिए, किसी भी मंदिर में जाकर मूली का दान करने की सलाह दी जाती है.

कर्क राशि
आपको इस पर्व पर बहते हुए जल में एक नारियल प्रवाहित करना चाहिए. साथ ही भगवान शिव को एक नाग की आकृति भेट करना भी, आपके लिए विशेष लाभकारी रहने वाला है.

सिंह राशि
यदि आपकी राशि सिंह है तो आपके लिए इस नागपंचमी के दिन एक सूखा नारियल और काली दाल का दान करना, लाभकारी रहने वाला है.

कन्या राशि
कन्या राशि के जातकों को हर प्रकार की शारीरिक समस्या से छुटकारा पाने के लिए, किसी विकलांग या रोगी की मदद करने की सलाह दी जाती है.

तुला राशि
तुला राशि के जातकों को नागपंचमी के दिन घर पर शिव चालीसा का पाठ करने की सलाह दी जाती है. ऐसा करने से न केवल आपको अपने हर दोष से मुक्ति मिल सकेगी, बल्कि आपके घर में सुख-समृद्धि भी आएगी.

वृश्चिक राशि
इस नागपंचमी के दिन आपको सच्चे दिल से गणेश जी की पूजा करनी चाहिए. साथ ही गणेश जी को पीले फूल और लड्डुओं का भोग लगाना भी, आपके लिए विशेष अनुकूल रहने वाला है.

धनु राशि
इस नागपंचमी आपको आटे को भूनकर उसमें चीनी मिलाकर, भगवान शिव को भोग लगाना चाहिए और उसके बाद उस प्रसाद को गरीबों में बांटना शुभ रहेगा.

मकर राशि
मकर राशि के जातकों को इस दिन नाग के दर्शन कर, किसी मंदिर में भंडारे का आयोजन करने की सलाह दी जाती है. हालांकि, कोरोना काल में बचकर रहें.

कुंभ राशि
कुंभ राशि वाले जातकों को नागपंचमी के दिन, ‘ॐ नागदेवतायै नम:’ मंत्र का जाप करते हुए बहते जल में 100 ग्राम कोयला प्रवाहित करना बेहद शुभ रहेगा.

मीन राशि
मीन राशि वाले जातकों को भगवान शिव के मंत्र- ॐ नमः शिवाय का उच्चारण करते हुए, शिव जी को विजया, अर्क पुष्प, धतूर पुष्प, फल चढ़ाएं और दूध से रुद्राभिषेक करने की सलाह दी जाती है.

साभार-Astrosage.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.