नदी के रास्ते पड़ोसी देश से हो रहा नशे का कारोबार, नेपाली शराब की 444 बोतल के साथ तस्कर गिरफ्तार

खबरें बिहार की जानकारी

एसएसबी 45वीं बटालियन की सीमा चौकी सिमरी घाट और थाना रतनपुरा (बिहार पुलिस) के संयुक्त नाका दल ने भारत-नेपाल अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर अवैध रूप से नेपाल से भारत लाये जा रहे 444 बोतल नेपाली शराब के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया। 45वीं बटालियन के कार्यवाहक कमांडेंट सह द्वितीय कमान अधिकारी आलोक कुमार ने बताया कि पूर्वी कोशी बांध के स्पर संख्या 1827 के पास नदी के रास्ते अवैध सामान की बड़ी खेप नेपाल से भारत लाए जाने की सूचना मिली थी। सूचना की विश्वसनीयता को देखते हुए रतनपुरा थाना को सूचित कर संयुक्त नाका लगाने का निर्देश दिया गया।

बोरी में भरकर शराब के साथ पकड़ाया तस्कर

सहायक उप निरीक्षक नारायण सिंह के नेतृत्व में मुख्य आरक्षी संजीव कुमार तथा अन्य दो का नाका दल सीमा चौकी सिमरी घाट की तरफ से और उप निरीक्षक 1, आरक्षी 3,  रतनपुरा थाना की तरफ से कुल 8 जवानों का संयुक्त नाका दल चिन्हित स्थान पर पहुंच कर मुस्तैदी के साथ इलाके की निगरानी करने लगा। कुछ समय के बाद नाका दल द्वारा देखा गया कि एक व्यक्ति नदी के किनारे से बोरी सिर पर लिए आ रहा है। व्यक्ति के नजदीक आने पर नाका दल द्वारा उसे घेर लिया गया। उससे पूछताछ की गई। पूछताछ के क्रम में उसने अपना नाम विकास कुमार, उम्र- 18 वर्ष, ग्राम-सिमरी, थाना-भपटियाही, जिला सुपौल (बिहार) बताया।

पुआल के ढेर में छिपा रखी थी बोरियां

बोरी में रखे सामान की तलाशी के दौरान नेपाली शराब की बड़ी खेप पाई गई। इसके बाद हिरासत में लिए व्यक्ति से सख्ती से पूछताछ के दौरान बताया कि और भी सामान नदी के किनारे छुपा कर रखा गया है। नाका दल द्वारा हिरासत में लिए व्यक्ति को लेकर नदी के किनारे के इलाके की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान नाका दल को पुआल के ढेर में बोरियों में छुपा कर रखी नेपाली शराब की 444 बोतल मिली। शराब जब्ती की कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद जब्त शराब एवं हिरासत में लिए गए व्यक्ति को थाना-रतनपुरा को सुपुर्द कर दिया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.