मुजफ्फरपुर से गिरफ्तार हुआ शूटर, 30 लाख की दी गयी थी सुपारी

खबरें बिहार की जानकारी

पश्चिम बंगाल के झालदा कांग्रेस नेता तपन कुंडू हत्याकांड में सीबीआई ने गुरुवार को मुजफ्फरपुर से शूटर को गिरफ्तार किया। पारु थाना के तेजा डुमरी गांव निवासी शशि भूषण उर्फ मुन्ना सिंह अपने अन्य दो साथियों के साथ इसी साल मार्च में कांग्रेस नेता तपन कुंडू का मर्डर किया था। बताया जा रहा है कि 30 लाख रुपए में मर्डर का कांट्रैक्ट मिला था। जिसमें से 10 लाख रुपए शूटर को मिले थे। शशिभूषण सिंह के अलावा इस हत्या कांड में बोकारो का कुख्यात कलवर सिंह का नाम भी शामिल था। राजनीति विद्वेष में हुई इस हत्या में पश्चिम बंगाल के कई सफेदपोशों के संबंध हैं। शशिभूषण ने सीबीआई को यह जानकारी दी है।

गुप्त सूचना के आधार पर सीबीआई ने की कार्रवाई


सीबीआई को शशिभूषण की जानकारी होने के बाद दो डीएसपी स्तर के अधिकारी मुजफ्फरपुर पहुंचे। डीआईयू के प्रभारी मो सुजाउद्दीन की टीम ने शशिभूषण को गोबरसही में गिरफ्तार किया। वह अहियापुर में अपने दो बच्चे और पत्नी के साथ किराए के मकान में रहता है। गोबरसही में किसी मित्र से मिलने आया था। शशिभूषण के आवास से पुलिस ने एक लोडेड पिस्टल भी बरामद किया है।

क्या है तपन कुंडू मर्डर केस  


तपन कुंडू पश्चिम बंगाल के पुरुलिया के झालदा से पार्षद निर्वाचित हुए थे। तपन कुंडू कांग्रेस में थे। इसी साल मार्च के महीने में राजनीतिक विद्वेष के चलते तपन कुंडू और 2 अन्य की हत्या कर दी गयी थी। पुलिस ने शुरुआती जांच में तपन के दो संबंधियों को गिरफ्तार किया था। हालांकि अब इस मामले की पूरी जांच सीबीआई ने अपने हाथ में ले ली है। शशिभूषण सिंह की गिरफ्तारी के बाद इस मर्डर केस का रहस्य सुलझता हुआ नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि तपन कुंडू हत्या कांड में कई नेताओं और अफसरों के नाम सामने आ सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.