मुसलमान लक्ष्मी-सरस्वती की पूजा नहीं करते, क्या वो करोड़पति-विद्वान नहीं हैं, BJP विधायक के बयान पर विवाद

कही-सुनी खबरें बिहार की जानकारी

बिहार में विवादित बयानों को लेकर सत्ता पक्ष के नेता सुर्खियों में बने रहते हैं लेकिन इस बार भाजपा विधायक के ही बोल बिगड़ गए। भागलपुर के पीरपैंती से भाजपा विधायक ललन पासवान एक पोर्टल पर आयोजित कार्यक्रम में विवादित बयानों को लेकर राजद और जदयू के निशाने पर हैं। भाजपा विधायक ललन पासवान ने कार्यक्रम में बोलते हुए हिन्दू पर्व और त्यौहारों की मान्यताओं पर सवाल खड़ा किया है। भाजपा विधायक ने कहा कि दिवाली के मौके पर लक्ष्मी की पूजा करने या न करने से कोई असर नहीं पड़ता है। ललन पासवान ने कहा कि मुस्लिम समुदाय के लोग तो लक्ष्मी की पूजा कभी नहीं करते हैं तो क्या वो करोड़पति नहीं होते। उन्होंने कहा कि इन रीति रिवाजों और मान्यताओं से कोई फर्क नहीं पड़ता है।

मानो तो देव नहीं तो पत्थर 

भाजपा विधायक ने तर्क देते हुए कहा कि ये सब मानने के ऊपर ही निर्भर करता है इसमें कोई लॉजिक नहीं है। उन्होंने कहा कि मान लो तो पत्थर भी देवता है नहीं मानना है तो पत्थर तो है ही लेकिन वो पत्थर है ये सबसे बड़ी सच्चाई है। भाजपा विधायक हिन्दू मान्यताओं के कई उदहारण देने से भी पीछे नहीं हटे। हनुमान और सरस्वती पूजा पर भी सवाल उठाते हुए भाजपा विधायक ने कहा कि मुसलमान तो इन देवी देवताओं की पूजा नहीं करते तोह क्या वह बुद्धिमान और विद्वान नहीं है क्या। भाजपा विधायक के बिगड़े बोल के बाद बिहार की सत्तारूढ़ पार्टी जदयू और राजद भाजपा पर सवाल खड़े कर रही हैं।

पीरपैंती से भाजपा विधायक ललन पासवान के बयां के बाद से बिहार की सियासत एक बार फिर से गरम हो गयी है। जदयू और राजद ने आरोप लगते हुए कहा है कि जनता  सब जानती है कि धर्म और जाति की राजनीती करने वाली भाजपा का असली चरित्र हिन्दू विरोधी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.