मूंछ नहीं था, 23 साल की उम्र में 53 संपत्ति के मालिक कैसे बन गए तेजस्वी यादव: सुशील मोदी

खबरें बिहार की जानकारी राजनीति

बिहार विधानसभा में तेजस्वी यादव के भाषण पर सुशील मोदी ने निशाना साधा है। सुशील मोदी ने तेजस्वी के बयान पर तंज कसते हुए कहा है कि मूँछ नहीं था , 23 साल की उम्र में 53 सम्पत्तियों के मालिक कैसे बन गए। सदन में नीतीश की गठबंधन सरकार के विश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले बोलते हुए भाजपा पर निशाना साधा था और कहा था कि भाजपा उनके नाम पर नैरेटिव सेट करना चाहती है और इसीलिए गुरुग्राम में मॉल पर हुए छापे को उनसे जोड़ा जा रहा है।

बिना बजट के कैसे लालू करते रहे घोषणा 
तेजस्वी के लालू यादव के रेल मंत्री होने पर हुए 90 हज़ार करोड़ के लाभ वाले  बयान पर सुशील मोदी ने कहा है कि जमीन के बदले नौकरी देने वाले लोग कह रहे हैं कि लालू यादव के कार्यकाल में 90 हजार करोड़ का फायदा हुआ है। मोदी ने निशाना साधते हुए कहा कि बिना बजट के प्रावधानों के घोषणाएं कैसे और क्यों करते रहे।

पुख्ता सबूत के आधार पर हो रही कार्रवाई
सुशील मोदी ने कहा है कि रेलवे में नौकरी के बदले जमीन लिखवाने और भ्रष्टाचार के विभिन्न मामलों में राजद नेताओं के 24 ठिकानों पर केंद्रीय जांच एजेंसियों की कार्रवाई पुख्ता सुबूत के आधार पर हो रही है। इसका विधान सभा के विशेष सत्र से कोई संबंध नहीं है। राजद और नीतीश कुमार इसे विधानसभा के सत्र से अनावश्यक जोड़ रहे हैं।

राजद के नेताओ के घर छापों से नीतीश क्यों परेशान 
सुशील मोदी ने नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा कि जब कार्रवाई राजद के दागी नेताओं पर हो रही है, तब दर्द नीतीश कुमार को क्यों हो रहा है?

जदयू ने उपलब्ध कराये थे सबूत 
पुराने दिनों की भाजपा गठबंधन वाली नीतीश सरकार का जिक्र करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि राजद नेताओं पर भ्रष्टाचार के मामले में सबूत के कागजात जदयू के लोगों ने जांच एजेंसियों को उपलब्ध कराये थे। 2017 में CM नीतीश कुमार ने तेजस्वी यादव से स्पष्टीकरण भी मांगा था। उन्हेंं फिर बिंदुवार जवाब मांगना चाहिए, जब कानून अपना काम कर रहा है, तब इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.