दुबई: इंडियन प्रीमियर लीग यानी IPL के 13वें सीजन का फाइनल मुकाबला दुबई के इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में मुंबई इंडियंस और दिल्ली कैपिटल्स के बीच खेला गया। इस मुकाबले को मुंबई ने 5 विकेट से जीत लिया और रिकॉर्ड पांचवीं बार आइपीएल की ट्रॉफी अपने नाम कर ली। मुंबई के बाद दूसरे नंबर पर चेन्नई सुपर किंग्स है, जिसने 3 बार ट्रॉफी जीती है।

इस महामुकाबले में दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया, लेकिन टीम को पहली गेंद पर बड़ा झटका मार्कस स्टोइनिस के रूप में लगा। हालांकि, दिल्ली ने कप्तान श्रेयस अय्यर और रिषभ पंत के अर्धशतकों के दम पर निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 156 रन बनाए और मुंबई के खिलाफ जीत के लिए 157 रन का सम्मानजनक स्कोर रखा।

157 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए मुंबई इंडियंस को अच्छी शुरुआत मिली, जिसका नतीजा ये रहा कि मुंबई ने 18.4 ओवर में ये पांच विकेट रहते लक्ष्य हासिल कर लिया। मुंबई के लिए रोहित शर्मा ने अर्धशतक जड़ा, जबकि इशान किशन ने शानदार 33 रन की नाबाद पारी खेली। इसी के दम पर मुंबई ने अपना पांचवां आइपीएल खिताब जीता। 

मुंबई की पारी, रोहित की फिफ्टी

157 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई की टीम को कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डिकॉक ने अच्छी शुरुआत दिलाई। हालांकि, डिकॉक 12 गेंदों में 20 रन बनाकर मार्कस स्टोइनिस की गेंद पर रिषभ पंत के हाथों कैच आउट हो गए। दूसरी सफलता दिल्ली को सूर्यकुमार यादव के रूप में मिली जो 20 गेंदों में 19 रन बनाकर रन आउट हो गए। एक तरह से उन्होंने अपना विकेट रोहित के लिए बलिदान कर दिया।

मुंबई इंडियंस के लिए कप्तान रोहित शर्मा ने महज 36 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। इनके आइपीएल करियर का ये 39वां अर्धशतक था, जबकि इस सीजन की ये तीसरी फिफ्टी थी। रोहित 51 गेंदों में 68 रन की पारी खेलकर एनरिक नॉर्खिया की गेंद पर 68 रन बनाकर आउट हुए। मुंबई का चौथा विकेट किरोन पोलार्ड के रूप में गिरा जो 4 गेंदों में 9 रन बनाकर कगिसो रबादा की गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए। 

मुंबई को पांचवां झटका उस समय लगा जब सिर्फ टीम को विनिंग रन चाहिए था, लेकिन हार्दिक पांड्या 3 रन बनाकर एनरिक नॉर्खिया की गेंद पर अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच आउट हुए। मुंबई के लिए 33 रन बनाकर इशान किशन और क्रुणाल पांड्या एक रन बनाकर नाबाद लौटे। 

दिल्ली की पारी, पंत और अय्यर की फिफ्टी

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स को पहला झटका पारी की पहली ही गेंद पर लगा, जब ट्रेंट बोल्ट ने मार्कस स्टोइनिस को विकेट के पीछे क्विंटन डिकॉक के हाथों कैच आउट कराया। अगले ओवर में ट्रेंट बोल्ट ने फिर हमला बोला और अजिंक्य रहाणे को चलता किया। रहाणे 2 रन बनाकर डिकॉक के हाथों कैच आउट हुए। इसके बाद भी दिल्ली दबाव झेल नहीं पाई। 

दिल्ली को तीसरा झटका शिखर धवन के रूप में लगा जो 13 गेंदों में 15 रन बनाकर जयंत यादव की गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए। तीसरे विकेट के बाद कप्तान श्रेयस अय्यर और रिषभ पंत के बीच एक अच्छी साझेदारी हुई। इस बीच रिषभ पंत ने 35 गेंदों में अर्धशतक जड़ा। हालांकि, वे दो गेंदों के बाद 56 रन के निजी स्कोर पर कुल्टर नाइल की गेंद पर हार्दिक पांड्या के हाथों कैच आउट हो गए।

दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने 40 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया। तीन विकेट गिरने की वजह से दिल्ली के ऊपर दबाव था, लेकिन अय्यर ने दबाव में 65 रन की अच्छी पारी खेली। वहीं, पांचवां झटका शिमरोन हेटमायर के रूप में लगा जो 5 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट का शिकार बने। छठी सफलता मुंबई को अक्षर पटेल के रूप में गिरी जो 9 रन बनाकर नैथन कुल्टर नाइल के शिकार बने। सातवां विकेट कगिसो रबादा के रूप में गिरा जो रन आउट हुए। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here